दो मार्च को होगी मुलायम, मोदी और केजरीवाल की रैली!

  • दो मार्च को होगी मुलायम, मोदी और केजरीवाल की रैली!
You Are HereNational
Sunday, February 23, 2014-2:26 PM

लखनऊ: लोकसभा चुनाव के मद्देनजर उत्तर प्रदेश में राजनीतिक पारा चरम पर पहुंच रहा है और समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी और दिल्ली के पूर्व मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की रैली एक ही दिन दो मार्च को होने जा रही है।

यादव और मोदी की एक ही दिन होने वाली यह पांचवीं रैली होगी जबकि केजरीवाल की लोकसभा चुनाव को देखते हुए उत्तर प्रदेश में यह पहली रैली होगी। मोदी जहां लखनऊ में रैली कर रहे होंगे वहीं यादव इलाहाबाद तथा केजरीवाल कानपुर में रैली को संबोधित करेंगे।    
 
इन रैलियों के माध्यम से समाजवादी पार्टी यह संदेश देने की कोशिश कर रही है कि मोदी और उनकी पार्टी भाजपा को सपा ही रोकने में सक्षम है इसीलिए मोदी और उनकी रैलियों के जवाब में सपा ने ताबडतोड़ रैलियां आयोजित की। इससे सपा ने अपने प्रमुख वोट बैंक मुसलमानों में अपनी पैठ बरकरार रखने की लगातार कोशिशें की।

सपा की देश बचाओ, देश बनाओ नाम से यह दसवीं रैली होगी इससे पहले आजमगढ़, बरेली, बदायूं, झांसी, मैनपुरी, वाराणसी, गोंडा, सहारनपुर और गोरखपुर में रैली हो चुकी है। इन सभी रैलियों में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और उनके मंत्रिमंडल के वरिष्ठ सदस्य मोहम्मद आजम खां का खासतौर पर संबोधन होता है।
 
पार्टी ने इलाहाबाद रैली के लिए सांसद धर्मेन्द्र यादव और विधायक संग्राम यादव को खास जिम्मेदारी सौंपी है जबकि इलाहाबाद के सांसद कुंवर रेवती रमण सिंह, कौशाम्बी से सांसद शैलेन्द्र कुमार और पूर्व सांसद रामपूजन पटेल के साथ ही पार्टी के कई पदाधिकारी और विधायक रैली को सफल बनाने के लिए भीड़ जुटाने में लगे हुए हैं।
 
दूसरी ओर मोदी की रैली के लिए भाजपा ने जहां पूरी ताकत झोंक दी है। पार्टी के प्रदेश सचिव और रैली के प्रचार प्रसार प्रभारी दयाशंकर सिंह ने बताया कि सभी विद्यालयों में छात्रों और सुबह टहलने वाले लोगों को पार्को आदि में पत्रक वितरित किए जा रहे हैं। 
  
भाजपा ने पहले रैली स्थल के रूप में कांशीराम उपवन का मैदान चुना था लेकिन प्रशासन की अनुमति नहीं मिलने की वजह से अब मोदी की रैली रमाबाई अम्बेडकर मैदान में होगी।
 
दूसरी ओर आम आदमी पार्टी अपनी कानपुर रैली को सफल बनाने के लिए जीजान से जुटी हुई है। कानपुर की रैली में केजरीवाल और पार्टी प्रवक्ता संजय सिंह का आना तय माना जा रहा है।
 
पार्टी के लिए अधिक से अधिक भीड़ जुटाने से ज्यादा महत्वपूर्ण जनता को सटीक संदेश देना है। रैली में केजरीवाल को सुनने के लिए कानपुर ही नहीं बल्कि आसपास के जिलों के लोगों के आने की सम्भावना है।
   
   


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You