फर्जी दस्तावेज से ली गोपाल कांडा ने जमानत!

  • फर्जी दस्तावेज से ली गोपाल कांडा ने जमानत!
You Are HereNational
Wednesday, March 05, 2014-7:58 PM

नई दिल्ली: गीतिका शर्मा की मौत के मामले में हरियाणा के पूर्व मंत्री गोपाल कांडा को 18 महीने तक जेल में बंद रहने के बाद जमानत मिल गई है। लेकिन गीतिका के भाई अंकित शर्मा ने सवाल उठाया है कि गोपाल कांडा ने जमानत के लिए अपने रसूख का इस्तेमाल किया है और उन्हें फर्जी दस्तावेजों के आधार पर जमानत मिली है। गीतिका के परिजनो ने कहा कि अदालत ने उनकी दलील तक नहीं सुनी और कांडा को फर्जी दस्तावेजों के आधार पर जमानत दे दी।

गीतिका के भाई अंकित शर्मा ने कहा कि कांडा ने अपनी पत्नी के बीमार होने सम्बन्धी जिन दस्तावेज के आधार पर जमानत ली है, वो दस्तावेज पहली नजर में ही फर्जी लगता है। गौरतलब है कि कांडा को उनकी कंपनी एमडीएलआर एयरलाइंस की होस्टेज गीतिका शर्मा की
आत्महत्या मामले में शामिल होने के आरोप में 2012 में गिरफ्तार किया गया था। गीतिका अपने घर में मृत पाई गई थी। उसने सूसाइड नोट में लिखा था कि कांडा ने उसे आत्महत्या के लिए बाध्य किया। पिछले डेढ साल में कांडा ने कई बार जमानत के लिए आवेदन किया लेकिन हर बार उसकी जमानत की अर्जी खारिज की जाती रही।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You