लड़कियां लापता, परिजन बेबस, पुलिस मस्त

  • लड़कियां लापता, परिजन बेबस, पुलिस मस्त
You Are HereUttar Pradesh
Friday, March 14, 2014-3:48 PM

बुलन्दशहर: कारण कोई भी हो लड़कियों के लापता होने का क्रम बदस्तूर जारी है। एक ओर बेबस परिजन बेटियों की तलाश में दर-बदर की ठोकरें खा रहे हैं, वहीं दूसरी ओर थानों में इसकी सुनवाई जीरो है। उत्तर प्रदेश के बुलन्दशहर में गुरूवार को ऐसे कई परिजन एसएसपी के सामने पेश हुए और अपनी पीड़ा उनके सामने रखी। खास बात यह है कि सभी मामले सांप्रदायिक रूप से विवादित होने के चलते गंभीर भी हैं। नरसेना के गांव खंदोई में एक युवती 5 मार्च से लापता है।

पहले तो पुलिस ने इस मामले को कोई तवज्जो नहीं दी, मगर जब लड़की की मां ने थाने में आत्मदाह करने की कोशिश की तो थानेदार ने खंदोई के कय्यूम पुत्र हाकिम अली और बलरामपुर निवासी इमरान पुत्र सबीरा के खिलाफ  अपहरण की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया। पीड़ित परिजन आरोपी इमरान को पकड़ कर पुलिस के हवाले कर चुके हैं, मगर पुलिस हाथ हिलाने को तैयार नहीं है। गुरूवार को बजरंग दल, विहिप और शिवसेना के करीब सवा सौ लोगों ने एसएसपी कार्यालय में जोरदार प्रदर्शन किया। एसएसपी उमेश कुमार सिंह ने मामले में जल्द से जल्द लड़की की बरामदगी का आश्वासन दिया है।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You