रोहिंग्या मामले में भारत को खलनायक बनाना सोची-समझी साजिश: रिजिजू

  • रोहिंग्या मामले में भारत को खलनायक बनाना सोची-समझी साजिश: रिजिजू
You Are HereNational
Wednesday, September 13, 2017-6:25 PM

नई दिल्ली: केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री किरण रिजिजू ने आज कहा कि एक साजिश के तहत रोहिंग्या मुद्दे पर जानबूझकर भारत की छवि धूमिल करने की कोशिश की जा रही है। सरकार की अवैध ढंग से देश में रह रहे रोहिंग्या समुदाय के लोगों को वापस उनके देश म्यांमार भेजने की घोषणा के बाद से ही यह मुद्दा गर्माया हुआ है तथा समुदाय के लोगों ने इसके खिलाफ उच्चतम न्यायालय का दरवाजा खटखटाया है। रिजिजू ने ट्वीट किया कि रोहिंग्या मुद्दे पर समवेत स्वर में भारत को खलनायक की तरह पेश करना देश की छवि धूमिल करने की साजिश है। यह भारत की सुरक्षा को कमजोर करता है। 

केन्द्रीय मंत्री का यह बयान रोहिंग्या मुद्दे पर संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार आयोग के प्रमुख की उस टिप्पणी के बाद आया है जिसमें उन्होंने भारत के रूख की आलोचना की है। सरकार का कहना है कि रोहिंग्या समुदाय के लोग अवैध ढंग से देश में रह रहे हैं और उन्हें उनके देश वापस भेजा जायेगा। साथ ही सरकार ने यह भी स्पष्ट किया है कि इन लोगों को उचित प्रक्रिया के तहत ही वापस भेजा जायेगा। सरकारी आंकड़ों के अनुसार देश में लगभग 40 हजार रोङ्क्षहग्या मौजूद हैं जो मुख्य रूप से राष्ट्रीय राजधानी दिल्ल, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, राजस्थान जम्मू और हैदराबाद में रह रहे हैं। इनमें से केवल 14000 के पास शरणार्थी दस्तावेज है बाकी अवैध रूप से रह रहे हैं।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You