अर्थव्यवस्था को मजबूती देने के लिए मोदी आज घोषित कर सकते हैं बड़ा आर्थिक पैकेज

  • अर्थव्यवस्था को मजबूती देने के लिए मोदी आज घोषित कर सकते हैं बड़ा आर्थिक पैकेज
You Are HereNational
Sunday, September 24, 2017-11:23 PM

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा देश की अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने के लिए सोमवार को एक बहुत बड़े आर्थिक पैकेज की घोषणा किए जाने की संभावना है। संघ परिवार के प्रमुख नेता दीनदयाल उपाध्याय की इसी दिन जन्म शताब्दी भी है। 2017-18 की पहली तिमाही में अर्थव्यवस्था की दर पिछले 3 वर्षों में सबसे कम 5.7 प्रतिशत दिखाई दी। 

मोदी रोजगार सृजन और मांग को प्रोत्साहित करने के मकसद से विद्युत, आवास और समाज कल्याण कार्यक्रमों के लिए आर्थिक पैकेज की घोषणा कर सकते हैं जो 40 हजार से लेकर 50 हजार करोड़ के बीच हो सकता है। 2019 तक हर घर में बिजली उपलब्ध करवाने के लिए सरकार 24 घंटे और सातों दिन काम कर रही है। प्रधानमंत्री गरीबों के कल्याण के लिए सरकार द्वारा शुरू किए गए कार्यों का एक रिपोर्ट कार्ड राष्ट्र के समक्ष पेश करने जा रहे हैं। जनसंघ के विचारक के नाम पर शुरू की गई महत्वाकांक्षी योजनाओं में से एक दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना या देहाती विद्युतीकरण योजना है। स्कीम के तहत अधिकांश लक्ष्यों को पूरा कर लिया गया है। 

देहाती और शहरी विकास, विद्युत और कौशल विकास मंत्रालयों के वरिष्ठ नौकरशाहों ने मई 2014 के बाद से उपाध्याय के नाम से शुरू की गई योजनाओं में हुई प्रगति के बारे में प्रधानमंत्री के समक्ष प्रस्तुति दी थी जिस बात पर अब चर्चा हो रही है। वह यह है कि अर्थव्यवस्था की मजबूती के लिए रोजगार सृजित करने वाले क्षेत्रों में अधिक खर्च किया जाए। सरकार वित्त वर्ष 2018 के लिए कुल घरेलू उत्पाद (जी.डी.पी.) के लक्षित 3.2 प्रतिशत घाटे का दायरा बढ़ाने में भी कोई संकोच नहीं करेगी।

सरकार मंदी और भारी-भरकम बैलेंस शीटों के दबाव का सामना कर रहे निजी निवेश पर भी खर्च कर सकती है। 2017-18 की प्रथम तिमाही में सरकार का कुल पूंजीगत निश्चित खर्चा 1.6 प्रतिशत बढ़ा है जोकि 2016-17 के चौथी तिमाही में 2.1 प्रतिशत था। प्रधानमंत्री सोमवार शाम को भाषण देंगे जो मीडिया के अलावा टी.वी. पर सीधा प्रसारित किया जाएगा।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You