PM मोदी ने कहा- दूसरों के लिए मिसाल बने राज्यपाल

  • PM मोदी ने कहा- दूसरों के लिए मिसाल बने राज्यपाल
You Are HereNational
Thursday, October 12, 2017-7:56 PM

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज सभी राज्यपालों से कहा कि वे समाज में बदलाव के वाहक बनें। मोदी ने राष्ट्रपति भवन में आयोजित राज्यपालों के सम्मेलन में कहा कि सरकार ने वर्ष 2022 तक नये भारत के निर्माण का लक्ष्य रखा है और इसे जनांदोलन बनाकर ही हासिल किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि राज्यपाल भी इसमें महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं वह इस संबंध में छात्रों तथा शिक्षकों के साथ व्यापक विचार-विमर्श करें। 

महात्मा गांधी प्रेरणा का स्रोत
प्रधानमंत्री ने स्वच्छता के मुद्दे पर भी राज्यपालों से दूसरों के लिए मिसाल बनने को कहा। भारत को खुले में शौच से मुक्त बनाने के लिए उन्होंने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को प्रेरणा का बड़ा स्रोत बताया। वर्ष 2019 में महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के आयोजन का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि त्यौहार तथा वर्षगांठ बदलाव की दिशा में ऊर्जा तथा प्रेरणा के स्रोत बन सकते हैं। मोदी ने कहा कि राज्यपाल अपनी ओर से आदिवासियों, दलितों तथा महिलाओं को मुद्रा योजना के तहत रिण देने के लिए भी बैंको को प्रोत्साहित कर सकते हैं। इसके लिए संविधान दिवस 26 नवंबर और अंबेडकर महापरिनिर्वाण दिवस 6 दिसंबर के बीच अभियान चलाया जायेगा।  

प्रधानमंत्री ने केन्द्र शासित प्रदेशों के उप राज्यपालों से सौर ऊर्जा, प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण तथा केन्द्र शासित प्रदेशों को केरोसिन मुक्त बनाने से संबंधित उत्तम योजनाओं का अनुसरण करने को कहा। उन्होंने कहा कि सभी केन्द्र शासित प्रदेशों में इन उपलब्धियों का लाभ पहुंचना चाहिए। युवाओं का आह्वान करते हुए उन्होंने कहा कि सभी राज्यों में युवाओं को एक-एक खेल पर ध्यान देना चाहिए। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You