बासमती की कीमत बढऩे पर किसानों ने ली राहत की सांस

  • बासमती की कीमत बढऩे पर किसानों ने ली राहत की सांस
You Are HereJammu Kashmir
Tuesday, January 10, 2017-7:41 PM

आरएस पुरा  (मुकेश): कस्बे में शुद्ध बासमती धान की कीमत 3800 सौ रुपये प्रति किंवटल तक पुहंच गई है हालांकि पिछले हफ्तें में इसकी कीमत कम थी। दाम बढऩे से किसान वर्ग ने राहत की सांस ली है। व्यपारी वर्ग का कहना है कि धान की कीमतें में अभी ओर इजाफा हो सकता है।

इस बारे में किसानों से बातचीत करने पर अवतार चंद, रोशन लाल, ओंमकार सिंह,प्रकाश चौधरी आदि ने बताया कि फसल की अच्छी कीमत मिलने पर किसान वर्ग ने राहत की सांस ली है। उन्होंने बताया कि पिछले साल धान की कीमत काफी कम मिल रही थी जिसकी बजह से उनका खेती पर किया खर्चा भी पूरा नहीं हो सका था। चूंकि इस बार फसल अच्छी होने के साथ उन्हें कीमत भी अच्छी मिल रही है जिससे वे काफी खुश हैं। वहीं कुछ किसानों का मानना है कि मौजूदा समय में खेती करना असान काम नहीं रहा है क्योंकि खाद बीज़ आदि की कीमतें काफी बढ़ गई हैं ओर उपर से मजदूर भी कटाई करने से पहले मुहमांगी कीमत मांगते हैं।

किसानों की सरकार से मांग है कि बासमती की कीमत 5000 रुपये प्रति किवंटल के हिसाब से तय होनी चाहिए ताकि वह खुशी से खेती को जारी रख सकें। वहीं किसान नेता मौहन चौधरी ने बताया कि किसान अपने खून पीसने से अन्न पैदा करता है मगर सरकार द्वारा उसकी अनदेखी की जाती है।  उन्होंने कहाकि धान कीमतों पर असंतोष प्रकट करते हुए कहाकि  मौजूदा समय में कोई भी व्यक्ति अपने बेटे को किसान नहीं बनना चहता है। चौधरी ने  केंद्र एंव राज्य सरकार से किसासानों के लिए ठोस पॉलसी बनाने की मांग की है।

 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You