एस.पी. ने मालखाने में रखे रिकवरी कैश की मांगी लिस्ट

  • एस.पी. ने मालखाने में रखे रिकवरी कैश की मांगी लिस्ट
You Are HereNational
Monday, November 14, 2016-9:51 AM

चंडीगढ़ (कुलदीप): 500 और 1000 के नोट बंद होने से बाद अब पुलिस विभाग के मॉल खानों में रखी कैश प्रॉपर्टी की करंसी से काम बढ़ गया है। कुछ दिन बाद ही यू.टी. एस.पी. ने संबंधित एस.डी.पी.ओ. को अपने एरिया में आने वाले थानों के मालखानों में रखे कैश की लिस्ट मंगवा ली है। इस काम में अब शहर के सभी थाना पुलिस का मालखाना विभाग जुट गया हैं। 

 

एरिया एस.डी.एम. को सौंपेंगे लिस्ट : एस.पी. सिटी डाक्टर नवदीप बराड़ ने बताया कि मालखानों में रखे कैश अलग-अलग तरह के केसों में जब्त हैं और सभी कैश कोर्ट प्रॉपर्टी हैं। नोट बंदी घोषणा के बाद कैश लिस्ट तैयार करवाई जा रही हैं। सोमवार को लिस्ट बनने के बाद एरिया एस.डी.एम. को सौंपी जाएगी। फिर अदालती निर्देशों पर विभाग काम करेगा। 

 

कैश में बड़े नोट ज्यादा: पुलिस विभाग के मालखाने में सी.बी.आई. द्वारा गिरफ्तार सस्पैंड डी.एस.पी. मीणा केस में 40 लाख कैश हैं। साथ ही दीपावली के कुछ दिन पहले ऑपरेशन सेल द्वारा सट्टेबाजों से रिकवर 1 लाख 80 रुपए में 500 व 1000 हजार के नोट ज्यादा शामिल हैं। इसके अलावा सट्टेबाजी व चोरी के मॉल भी शामिल हैं। केस से संबंधित फैमली कोर्ट में दे सकती है एप्लीकेशन: जिला अदालत के एडवोकेट तरमिंद्र सिंह ने बताया कि मालखाने में रखी कैश प्रॉपर्टी बदलने के लिए केस से संबंधित फैमली कोर्ट में अपने नाम से एप्लीकेशन डाल सकती है। क्या पता भविष्य में वह केस जीत जाए और वह कैश प्रॉपर्टी उनके पास आ जाएं। 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You