पदयात्रा का मकसद सरकार को जिम्मेवारी की याद कराना: पायलट

You Are HereNational
Friday, October 06, 2017-7:04 PM

झालावाड़: कर्ज माफी के मुद्दे को लेकर राजस्थान कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट ने किसानों के प्रति हमदर्दी जताई है। जिले के राधारमण स्टेडियम में किसान सभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि जब अन्याय चरम पर होता है तब न्याय की गुहार लगानी पड़ती है, कांग्रेस की किसान न्याय पदयात्रा ने हाड़ौती संभाग में किसानों के अधिकारों की अलख जगाई है। उन्होंने किसानों से संपूर्ण ऋण माफ किए जाने को पूछा तो वहां उपस्थित किसानों ने बुलन्द आवाज में उनका समर्थन कर अपनी मांगों पेश किया।

उन्होंने कहा कि 80 से ज्यादा किसान कर्जे में डूबने के कारण आत्महत्या कर चुके है परन्तु मुख्यमंत्री तो क्या किसी भी मंत्री ने उनके परिजनों को सहायता देना तो दूर उनके आंसू पोंछने तक का कष्ट नहीं उठाया। उन्होंने कहा कि हमारी इस 100 कि.मी. की पदयात्रा का मकसद वादाखिलाफी कर रही भाजपा सरकार को उसकी जिम्मेदारी याद दिलाने के लिए है। उन्होंने कहा कि हमने सरकार के सामने किसानों के लिए प्रमुख तीन मांगें रखी है जिन्हें सरकार को हर हाल में पूरा करना पड़ेगा।

उन्होंने कहा कि सम्पूर्ण कर्ज माफी के साथ ही लागत पर 50 प्रतिशत मुनाफा देने और न्यूनतम समर्थन मूल्य पर किसानों की ऊपज को सरकारी स्तर पर खरीद की व्यवस्था करना मुख्य है। उन्होंने प्रदेश सरकार द्वारा कमेटी का गठन किसानों की मांगों को लम्बित रखने के लिए किया गया है जिससे साफ जाहिर होता है कि सरकार की नीयत में खोट है।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You