6 महीने के बेटे ने दी मां की चिता को आग, जिसने भी देखा ये नजारा नहीं रोक पाया आंसू!(Pics)

You Are HereMadhya Pradesh
Saturday, November 19, 2016-2:12 PM

इंदौरः मध्य प्रदेश के रतलाम की रहने वाली कल्पना नाम की एक महिला ने खुद काे फांसी लगा ली। महिला के अंतिम संस्कार के समय जब 6 माह के बेटे से मां को मुखाग्नि दिलाई गई तो वहां माैजूद हर शख्स की आंख भर आई।  मृतका रतलाम के स्वास्थ्य केंद्र में एएनएम थी। 20 जनवरी 2014 को उसकी शादी राहुल राठौर (23) नाम के शख्स से हुई थी।

क्या है पूरा मामला?
जानकारी के मुताबिक, घटना के समय महिला कमरे में अकेली थी। दोपहर में जब सास ने बच्चे के रोने की अावाज सुनी, ताे कमरा खट्खटाया, लेकिन वह नहीं खुला। इस पर सास ने बेटे राहुल को फोन पर जानकारी दी। राहुल ने घर पहुंचकर दरवाजा खोला तो कल्पना फंदे पर लटकी थी। इसके बाद जिला अस्पताल में दोनों पक्षों के बीच विवाद हो गया। महिला के परिजन ने ससुराल पक्ष पर बेटी को प्रताड़ित करने का आरोप लगाया, जिसके बाद पुलिस ने मामला शांत करवाकर महिला के पैतृक गांव में ही अंतिम संस्कार करवाया। 

मकान के लिए मांग रहे थे 10 लाख
वहीं, कल्पना के पिता लक्ष्मीनारायण ने बताया कि ससुराल वाले मकान बनाने के लिए 10 लाख रुपए मांग रहे थे। बेटी का एटीएम कार्ड पति राहुल के पास रहता था। उसके वेतन से राहुल ने बाइक खरीदी फिर बेच दी। बेटी तीन दिन पहले ही मायके आई थी। वह परेशान करने की शिकायत कर रही थी। गुरुवार को उसने फोन पर बताया कि ससुराल वाले दवा पीने के लिए भी दूध नहीं दे रहे। बेटी ने यह भी बताया कि उसके पति का प्रतापगढ़ में किसी लड़की से अफेयर है और दोनों घंटों मोबाइल पर बात करते हैं।

पति ने कहा- मानसिक बीमार थी पत्नी
हालांकि, पति राहुल का कहना है कि मई में डिलीवरी के बाद से ही कल्पना मानसिक बीमार हो गई थी। उसका रतलाम में डॉ. निर्मल जैन से इलाज चल रहा था, जिसके पर्चे भी उनके पास हैं। इस बारे में जब डॉ. जैन से पूछा गया ताे उनका कहना था कि मुझे एकदम से तो याद नहीं किंतु मेरे द्वारा इलाज किया जा रहा था तो मानसिक बीमारी ही होगी। बाकी बीमारी क्या थी, यह बात वह पर्ची देखकर ही बता सकते हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You