<

‘बिहार में मोदी की कोई लहर नहीं’

  • ‘बिहार में मोदी की कोई लहर नहीं’
You Are HereNational
Monday, March 03, 2014-5:35 PM

पटना: कांग्रेस ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के उम्मीदवार और गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी के बार-बार बिहार आने तथा आगामी लोकसभा चुनाव में बड़े पैमाने पर भाजपा द्वारा बाहरी लोगों को उम्मीदवार बनाए जाने को भाजपा की कमजोरी बताते हुए कहा कि बिहार में भाजपा के पास सभी 40 सीटों के लिए खुद का उम्मीदवार नहीं है।

बिहार प्रदेश कांग्रेस कमिटी के उपाध्यक्ष प्रेमचंद्र मिश्रा ने कहा कि मुजफ्फरपुर में मोदी द्वारा बिहार में बंद पड़े चीनी मिलों। बिजली की समस्या, बेरोजगारी, आतंकवादियों के पकड़े जाने तथा महिलाओं के लिए शौचालय के अभाव की अपने भाषण में चर्चा किए जाने को हास्यास्पद बताते हुए कहा कि पिछले साढ़े सात वर्षो तक बिहार में भाजपा सत्ता में रहकर क्या कर रही थी। उन्होंने कहा कि गुजरात में लड़कियो के 35 प्रतिशत स्कूलो, कॉलेजों एवं महिला छात्रावासो में अभी भी शौचालय नहीं है।

मिश्रा ने कहा कि भाजपा ने लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) के अध्यक्ष रामविलास पासवान को सात सीटें, राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (रालोसपा) के अध्यक्ष उपेन्द्र कुशवाहा को तीन सीट तथा दूसरी दलों एवं गैर भाजपाई दलों के जयनारायण निषाद, ओमप्रकाश यादव, श्रीमति पुतूल देवी, छेदी पासवान, मनोज तिवारी, आर.के. सिंह और आर.एस. पांडेय को टिकट देने तथा गठबंधन में शामिल करने का काम किया है उससे यह स्पष्ट होता है कि बिहार में मोदी की न तो कोई लहर है और न ही भाजपा की लोकप्रियता में कोई वृद्धि हुई है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You