आमदनी बढ़ाने के लिए निगम ढूंढ रही है प्रापर्टी

  • आमदनी बढ़ाने के लिए निगम ढूंढ रही है प्रापर्टी
You Are HereNational
Tuesday, March 18, 2014-10:30 PM

नई दिल्ली (सज्जन चौधरी) आने वाले दिनों में दिल्ली नगर निगम केंद्र और दिल्ली सरकार को लोन दे तो हैरत की बात नहीं होगी। दिल्ली नगर निगम के अधिकारियों ने निगम को खुद के पैरों पर खड़ा करने की तैयारियां शुरू कर दी हैं।

उत्तरी दिल्ली नगर निगम आमदनी के लिए कई कमर्शियल कांपलेक्स और हाउसिंग प्रोजेक्ट बनाने जा रही है। इसके लिए उत्तरी दिल्ली नगर निगम जल्द ही निगम के अंतर्गत आने वाले कई इलाकों में स्टडी शुरू करने जा रहा है। शुरूआती चरण में निगम की ओर से कमला मार्केट में कमर्शयल कांपलेक्स बनाने से लेकर ढाका में बने दोमंजिला फ्लैट्स को बहुमंजिला फ्लैट्स बनाने के लिए निगम की ओर से स्टडी कराई जा रही है।

उत्तरी दिल्ली  नगर निगम जल्द ही ऐसी जगहों की स्टडी करेगा जहां से निगम को अच्छी आमदनी की उम्मीद है। गौरतलब है मौजूदा समय में निगम और निगम पार्षदों को अपने इलाकों में विकास कार्य कराने के लिए सांसद या विधायक फंड से पैसा लाना पड़ता है। निगम की ओर से मिलने वाले पैसे से बड़े विकास कार्य नहीं कराए जा सकते। ऐसे में पार्षद, स्थानीय सांसदों की ओर फंड के लिए ताकते हैं।

निगम को अपने पैरों पर खड़ा करने की शुरूआत सीवीक सेंटर से हुई थी। जिसमें निगम ने लगभग 500 करोड़ रुपए का लोन लेकर सीवीक सेंटर बनाया था। जिसे बाद में इनकम टैक्स विभाग को लीज पर देकर निगम ने 1800 करोड़ रुपए निगम ने कमाए। इमारत की फीनिशिंग, फर्निशिंग में लगभग 200 करोड़ रुपए लगे थे। निगम ने इमारत को लीज पर देकर कई गुना रुपए कमाए। उत्तरी दिल्ली नगर निगम में प्रेस एवं सूूचना निदेशक योगेंद्र सिंह मान ने बताया कि निगम की ओर से जल्द ही स्टडी शुरू कराई जा रही है। जिसमें उन स्थानों को चुना जाएगा जहां से निगम को कमाई हो सकती है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You