जानिए किसने बनाया सबसे अधिक मतों से जीतने का रिकार्ड?

  • जानिए किसने बनाया सबसे अधिक मतों से जीतने का रिकार्ड?
You Are HereNational
Sunday, April 06, 2014-12:31 PM

नई दिल्ली: आम चुनावों में सबसे अधिक मतों से जीत दर्ज करने का रिकार्ड माक्र्सवादी कम्युनिष्ट पार्टी के अनिल बसु के नाम है जबकि सबसे कम मतों से जीत का रिकार्ड दो उम्मीदवारों के नाम है। लोकसभा के अब तक हुये पंद्रह चुनावों में सबसे बड़ी जीत अनिल बसु ने 2004 में दर्ज की थी। उन्होंने पश्चिम बंगाल की अरामबाग सीट पर अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी को 592502 मतों से हराया था।

उन्होंने राम विलास पासवान का रिकार्ड तोडा जो 1989 में बिहार के हाजीपुर (सु) सीट पर पांच लाख से अधिक मतों से विजयी हुये थे। इन नेताओं ने पांच लाख मतों के अंतर से जीत हासिल की थी वहीं 1989 और 1998 के चुनावों में दो प्रत्याशी मात्र नौ मतों के अंतर से जीते थे जो आम चुनावों में अब तक का सबसे कम अंतर है। कांग्रेस के राम कृष्णन ने 1989 में आंध्र प्रदेश की अनकापल्ली सीट पर नौ मतों से जीत हासिल की थी।

उन्हें 299109 वोट तथा उनके निकटतम प्रतिद्वद्वी तेलुगुदेशम के अप्पलनरसिंहम को 299100 मत मिले थे। यही अंतर 1998 के चुनाव में बिहार की राजमहल सीट पर रहा। भाजपा के सोम मरांडी को 198889 वोट तथा कांग्रेस के थामस हंसदा को 198880 वोट पड़े थे।

सबसे अधिक मतों से जीत का रिकार्ड बनाने वाले बसु को 2004 के चुनाव में 744464 मत मिले थे। दूसरे नंबर पर रहे भाजपा के स्वप्न कुमार नंदी को 151962 तथा तीसरे नंबर पर रहे कांग्रेस के प्रदीप दत्ता को 68414 मत मिले थे। इससे पहले सबसे अधिक अंतर से जीतने का रिकार्ड श्री पासवान के नाम था जिन्होंने 1989 के चुनाव में 504448 मतों से विजय मिली थी। उन्हें 615129 मत मिले थे जो कुल पड़ मतों का 84 प्रतिशत था।

इस चुनाव में दूसरे नंबर पर रहे कांग्रेस के महावीर पासवान को 110681 वोट ही मिले थे। पासवान ने 1977 में इसी सीट पर 424545 मतों से जीत हासिल की थी जो उस आम चुनाव में हार जीत का सबसे बडा अंतर रहा था। पिछले आम चुनाव नागालैंड पीपुल्स फ्रंट  केसीएम चांग नागालैंड सीट पर सबसे अधिक 483021 मतों से विजयी हुये थे।

चार लाख से अधिक मतों से जीतने वालों में कांग्रेस के संतोष मोहन देव का नाम भी शामिल है। उन्होंने 1991 में त्रिपुरा पश्चिम सीट 428984 मतों से जीत हासिल की थी।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You