'मोदी जहरीली भाषा के जनक, गुब्बारा जल्द फटेगा'

  • 'मोदी जहरीली भाषा के जनक, गुब्बारा जल्द फटेगा'
You Are HereNational
Wednesday, January 15, 2014-4:54 PM

जालंधर: कांग्रेस कार्यसमिति की पूर्व सदस्य व पूर्व सांसद सत्याबेन ने कहा है कि भाजपा के प्रधानमंत्री पद के दावेदार नरेन्द्र मोदी जहरीली भाषा के जनक हैं, जिस कारण भाजपा ने उन्हें अपना प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित किया। आज यहां बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि मोदी का गुब्बारा जल्द फट जाएगा तथा असलियत लोगों के सामने आ जाएगी।

एक प्रश्र के उत्तर में उन्होंने कहा कि मोदी द्वारा नेहरू परिवार के प्रति असंसदीय भाषा का प्रयोग किया जा रहा है। उन्होंने सवाल किया कि चाय बेचने वाला प्रधानमंत्री तो बन सकता है परन्तु उसमें राष्ट्र की जानकारी होनी अनिवार्य है जो मोदी में नहीं है। मोदी तो अर्थशास्त्र में भी शून्य है। सत्याबेन ने कहा कि भाजपा में मोदी से से अधिक योग्य नेता मौजूद हैं।

उन्होंने कहा कि मोदी लोकतंत्र के लिए भारी खतरा है। यह पूछे जाने पर कि क्या लोकसभा चुनावों में मोदी का मुकाबला करने में राहुल गांधी सक्षम हैं, तो उन्होंने कहा कि राहुल गांधी मोदी जैसी गंदी भाषा का प्रयोग नहीं करते हैं, वह मर्यादा में रहते हैं। उन्होंने कहा कि राहुल के परिवार ने तो कुर्बानियां दी है परन्तु मोदी बताएं कि उन्होंने देश के लिए क्या कुर्बानी दी है। गांधी परिवार में इंदिरा गांधी, राजीव गांधी की कुर्बानियो ंको देश भूल नहीं सकता है।

सत्याबेन ने कहा कि अगर कांग्रेस राहुल को प्रधानमंत्री पद का दावेदार घोषित करती है तो इससे पार्टी को लाभ होगा। उन्होंने कहा कि जनता व कांग्रेसी राहुल के साथ है। उन्होंने कहा कि महंगाई, पैट्रोलियम उत्पादों की ऊंची कीमतों तथा स्कैंडलों के कारण पार्टी को चार राज्य विधानसभा चुनावों में नुक्सान हुआ है। परन्तु अब सरकार के प्रयासों से महंगाई नियंत्रण में आ रही है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकारों ने जमाखोरों के खिलाफ सख्त कार्रवाई नहीं की।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस केन्द्र में गठबंधन सरकार चला रही थी तथा स्कैंडलों में अधिकतर गठबंधन पार्टियों के नेता शामिल रहे। परन्तु बदनामी कांग्रेस को झेलनी पड़ी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस में भी अच्छे मुख्यमंत्री रहे हैं, जिनमें वीरभद्र सिंह तथा शीला दीक्षित शामिल हैं। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी की हवा लोकसभा चुनाव से पहले ही निकल गई है। उन्होंने बताया कि आम आदमी पार्टी को भी दिल्ली में 28 सीटें मिलने की उम्मीद नहीं थी।

परन्तु जो वायदे आम आदमी पार्टी द्वारा किए गए हैं, वह पूरे होने असंभव हैं। जल्द ही सारी सच्चाई जनता के सामने होगी। पंजाब की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि अकालियों के शासनकाल में पंजाब की जो दुर्गति हुई है, वह सबके सामने हैं। लोकसभा चुनाव के नतीजे कांग्रेस के पक्ष में जाएंगे।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You