युवराज ने मिलाई धोनी की हां में हां

  • युवराज ने मिलाई धोनी की हां में हां
You Are HereSports
Friday, August 23, 2013-9:22 PM

नई दिल्ली: युवराज सिंह ने खुद को भारतीय टीम में वापसी के लिए पूरी तरह फिट करार देते हुए आज यहां कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की हां में हां मिलाते हुए कहा कि टीम में संतुलन बनाने के लिए युवा और अनुभव का मिश्रण बहुत जरूरी है।

युवराज ने आज यहां भारत की पहली प्रापर्टी हेल्पलाइन इन्वेस्टर्स क्लीनिक की शुरूआत करते हुए कहा कि वह जल्द से जल्द राष्ट्रीय टीम में वापसी करना चाहते हैं और इस बीच किसी भी घरेलू क्रिकेट में खेलने के लिये तैयार हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘मुझे बहुत खुशी है कि युवा खिलाड़ी अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं। उनका भविष्य उज्ज्वल है, लेकिन टीम में संतुलन बनाने के लिए अनुभव और युवाओं का मिश्रण जरूरी है। ’’

भारत को 2011 विश्व कप में खिताब दिलाने में अहम भूमिका निभाने वाले युवराज ने कहा, ‘‘धोनी ने अगर कुछ कहा है तो निश्चित तौर कुछ सोच कर कहा होगा। विश्व कप 2011 में सभी समझते हैं कि अनुभवी और युवा खिलाडिय़ों के होने से हमें क्या फायदा मिला। हमें उनके (पुराने खिलाडिय़ों) योगदान को नहीं भूलना चाहिए। ’’

फिटनेस हासिल करने के लिये फ्रांस में महत्वपूर्ण समय गुजारने वाले युवराज ने कहा कि इस दौरे के बाद खुद को टीम में वापसी के लिए पूरी तरह फिट मानते हैं। युवराज से पूछा गया कि क्या उन्हें लगता है कि आस्ट्रेलिया के खिलाफ अक्तूबर में होने वाली एकदिवसीय सीरीज में वापसी करना उनके लिए कठिन होगा, उन्होंने कहा, ‘‘मुझे नहीं पता कि आगे क्या होगा।

मैं नहीं जानता कि अक्तूबर से पहले कितनी घरेलू क्रिकेट होगी, लेकिन मुझे अपनी योग्यता पर जरा भी शक नहीं है। मैं जल्द से जल्द टीम में वापसी के लिए तैयार हूं। बाकी सब भाग्य का खेल है। ’’युवराज ने कहा, ‘‘मुझे नहीं पता कि अभी अक्तूबर से पहले क्या क्रिकेट होनी है, लेकिन मुझे जहां भी मौका मिलेगा मैं वहा खेलना चाहूंगा। यदि मेरे राज्य (पंजाब) की टीम बुच्ची बाबू या मोइनुद्दौला टूर्नामेंट में खेलती है तो मैं वहां भी खेलूंगा। ’’
अब तक 40 टेस्ट और 282 वनडे खेल चुके इस आलराउंडर से पूछा गया कि क्या वह खुद को 2015 में होने वाले विश्व कप के लिए टीम में जगह के दावेदार मानते हैं, उन्होंने कहा, ‘‘विश्व कप में तो अभी दो साल का समय है। उससे पहले अभी बहुत कुछ होना है। फिलहाल मेरा लक्ष्य जल्द से जल्द टीम में वापसी करना है। ’’

कैंसर से उबरकर पिछले साल वापसी करने वाले युवराज ने कहा कि फ्रांस में बिताया गया समय काफी अच्छा रहा। उन्होंने कहा, ‘‘राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी में अच्छी सुविधाएं हैं लेकिन एक अलग तरह के माहौल में फिटनेस हासिल करना अच्छा रहा है। यहां मेरा ध्यान बंट जाता वहां मैं पूरी तरह से फिटनेस पर ध्यान केंद्रित करने में सफल रहा। ’’

युवराज के साथ तेज गेंदबाज जहीर खान ने भी फ्रांस में फिटनेस ट्रेनिंग की थी। युवराज ने कहा, ‘‘जाक (जहीर) ने अपना वजन छह किलो कम किया है। उसने अपना पूरा ध्यान फिटनेस पर केंद्रित रखा। वह भी मेरी तरह कड़ी मेहनत कर रहा है। हमने एक साथ भारत की तरफ से खेलना शुरू किया था और बहुत अच्छे दोस्त हैं। हम एक दूसरे का उत्साह बढ़ाते रहते हैं। ’’

युवराज ने कल सचिन तेंदुलकर के बेटे अर्जुन तेंदुलकर का फोटा ट्वीट करके कहा था कि बायें हाथ का युवा बल्लेबाज उन्हें अपने बचपन की याद दिलाता है।

इस बारे में उन्होंने कहा, ‘‘मुझे सचिन ने कुछ समय पहले बताया था कि उसकी (अर्जुन ) बल्लेबाजी शैली काफी हद मेरी जैसी है। मैंने जब उसे देखा तो मुझे भी ऐसा लगा। मुझे चंडीगढ़ में बिताए गए शुरूआती दिन याद आ गये। वह भी क्रिकेट के प्रति अपने पिता जैसा जुनूनी है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You