सचिन अपने अंतिम टेस्ट में रन बनाए या नहीं इससे कोई फर्क नहीं पड़ता: द्रविड़

  • सचिन अपने अंतिम टेस्ट में रन बनाए या नहीं इससे कोई फर्क नहीं पड़ता: द्रविड़
You Are HereSports
Tuesday, October 29, 2013-12:33 PM

मुंबई: पूर्व भारतीय कप्तान राहुल द्रविड़ ने कहा कि सचिन तेंदुलकर अपनी अंतिम टेस्ट श्रृंखला में बड़ी पारी खेलता है या नहीं इससे कोई फर्क नहीं पड़ता लेकिन यह महान बल्लेबाज पिछले 24 साल के अपने समर्पण के कारण निश्चित तौर पर अच्छी विदाई का हकदार है।

तेंदुलकर मुंबई में अगले महीने वेस्टइंडीज के खिलाफ अपने करियर का 200वां टेस्ट खेलने के बाद अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह देंगे। द्रविड़ ने कहा, ‘‘मैं सिर्फ इतनी उम्मीद करता हूं कि वह अपने अंतिम दो मैचों का लुत्फ उठाए और अपने क्रिकेट का लुत्फ उठाए फिर भले ही वह रन बनाए या नहीं क्योंकि यह बेमानी है। उम्मीद करता हूं कि वह काफी लुत्फ उठाएगा और यह दो मैच बेजोड़ पल होंगे। मैं उसे शुभकामनाएं देना चाहता हूं और उसने पिछले 24 साल में भारतीय क्रिकेट के लिए जो किया उसके लिए धन्यवाद देना चाहता हूं।’’

उन्होंने कहा, ‘‘वह ऐसा खिलाड़ी है जिसने अपना स्तर कभी नहीं गिरने दिया। 16 बरस की उम्र से अब 40 बरस की उम्र तक क्रिकेट के लिए उसका प्यार बरकार है। मैं उम्मीद करता हूं कि वह अपने अंतिम दो टेस्ट में अच्छा प्रदर्शन करेगा और अच्छे प्रदर्शन के साथ विदा होगा।’’ द्रविड़ ने यहां एक कार्यक्रम के इतर कहा, ‘‘उसका परिवार भी आ रहा है इसलिए ये दोनों मैच काफी बड़ा मौका है। उसने इतने वर्षों तक कड़ी मेहनत की इसलिए वह अच्छी विदाई का हकदार है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘उसे सब कुछ पता है। वह संभवत: अपनी पीढ़ी का और संभवत: सर्वकालिक ऐसा खिलाड़ी है जिसके बारे में सबसे अधिक लिखा गया।’’ अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में काफी सम्मानित बल्लेबाज रहे द्रविड़ ने कहा कि तेंदुलकर की उपलब्धियों के करीब पहुंचना भी मुश्किल होगा। उन्होंने कहा, ‘‘मैंने सचिन के साथ काफी क्रिकेट खेला। मैंने उसे बचपन से देखा है। वह लंबे समय से भारतीय टीम के साथ है और वह महान क्रिकेटर है।’’

यह पूछने पर कि तेंदुलकर के जाने के बाद उनकी जगह की भरपाई कौन कर सकता है, द्रविड़ ने कहा कि किसी युवा से तुरंत उनकी जगह भरने की उम्मीद करना अनुचित है। उन्होंने कहा, ‘‘कुछ अच्छे प्रतिभावान खिलाड़ी मौजूद हैं। अगर आप देेखें कि विराट कोहली ने जो वन डे क्रिकेट में किया और टेस्ट क्रिकेट में भी, वह शानदार है। मुझे लगता है कि एकदिवसीय मैचों में भारत की बल्लेबाजी अब तक की सबसे अच्छी है। शीर्ष छह-सात बल्लेबाज शानदार है। इनमें से कोई उसकी जगह ले सकता है। उसकी जगह लेना आसान नहीं होगा।’’

द्रविड़ ने कहा, ‘‘आपको उन्हें समय देना होगा। उम्मीद करता हूं कि कोहली या रोहित शर्मा, अजिंक्य रहाणे, सुरेश रैना और कुछ अन्य खिलाड़ी इस जगह के लिए चुनौती पेश करेंगे। यह देखना रोमांचक होगा कि कौन कुछ समय तक स्थायी रूप से इस स्थान पर जगह बनाएगा।’’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You