अदिति ने निजी क्षेत्र से महिला फुटबॉल के लिए आगे आने को कहा

  • अदिति ने निजी क्षेत्र से महिला फुटबॉल के लिए आगे आने को कहा
You Are HereFootball
Tuesday, January 03, 2017-3:50 PM

नई दिल्ली: भारतीय महिला फुटबॉल की पुरोधा अदिति चौहान ने निजी क्षेत्र को इस खेल के विकास के लिये अधिक सक्रिय भूमिका निभाने को कहा है। ब्रिटेन में 2015 में एक पेशेवर क्लब के लिए खेलने वाली पहली भारतीय महिला फुटबॉलर अदिति जनवरी में भारत लौट आई जिसका छात्र वीजा खत्म हो गया था।

सिलीगुड़ी में सैफ चैम्पियनशिप में भारतीय टीम की गोलकीपर अदिति ने प्रेस ट्रस्ट से कहा,‘‘ एआईएफएफ ने महिला फुटबॉल के विकास के लिये काफी प्रयास किए हैं। निजी क्षेत्र भी आगे आ जाए तो हालात बेहतर हो जाएंगे।’’ उसने कहा ,‘‘ भारत में महिला फुटबॉल आगे बढा है खासकर सैफ टूर्नामेंट में हम हमेशा जीतते आए हैं। 

दक्षिण एशिया में हमारे दबदबे ने साबित कर दिया कि प्रतिभा की कमी नहीं है। हम जल्दी ही एशिया में शीर्ष स्तर पर खेलेंगे। महिला आई लीग सही दिशा में उठाया गया कदम है।’’ इंग्लैंड और भारत में ढांचे में फर्क के बारे में पूछने पर उसने कहा, ‘‘वहां स्तर काफी उंचा है। कई लीग हो रही है और उसमें कोई भी खेल सकता है। भारत में अब उस तरह की संस्कृति पैदा हो रही है। भारतीय महिला फुटबॉल का लंबा इतिहास नहीं है लेकिन हालात बेहतर हुए हैं और अब अधिक लड़कियां फुटबाल खेल रही है।’’ 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You