चीन के युवाओं में तेजी से फैलता अल्जाइमर रोग, सरकार परेशान

Edited By ,Updated: 30 Sep, 2023 05:38 AM

alzheimer s disease spreading rapidly among china s youth government worried

चीन में अल्जाइमर रोग की गिरफ्त में अब युवा भी आने लगे हैं, हाल ही में एक 19 वर्षीय युवा के अंदर इस रोग के लक्षण पाए जाने से चीन के मैडीकल क्षेत्र में हड़कम्प मच गया है। 21 सितम्बर को पूरी दुनिया में विश्व अल्जाइमर दिवस के तौर पर मनाया जाता है, इस...

चीन में अल्जाइमर रोग की गिरफ्त में अब युवा भी आने लगे हैं, हाल ही में एक 19 वर्षीय युवा के अंदर इस रोग के लक्षण पाए जाने से चीन के मैडीकल क्षेत्र में हड़कम्प मच गया है। 21 सितम्बर को पूरी दुनिया में विश्व अल्जाइमर दिवस के तौर पर मनाया जाता है, इस दिन पूरे विश्व में अल्जाइमर रोग से होने वाले नुक्सान से लोगों को परिचित कराया जाता है। 

विशेषज्ञों का मानना है कि इस समय विश्व में सबसे ज्यादा अल्जाइमर रोग से पीड़ित लोग चीन में रहते हैं और यह संख्या बहुत बड़ी है क्योंकि विश्व में चीन की आबादी दूसरे नम्बर पर है। इसमें सबसे ज्यादा ङ्क्षचता की बात यह है कि चीन में इस समय युवाओं में अल्जाइमर रोग तेजी से फैल रहा है, पहले जहां पर इसके रोगियों की संख्या 60 वर्ष से शुरू होकर 79 से 85 वर्ष तक जाती थी वहीं अब चीन में 30-35 वर्ष के युवा भी अल्जाइमर के रोगी मिल जाते हैं लेकिन ताजा मामले में 19 वर्षीय युवा के इस रोग से ग्रस्त पाए जाने से चीन के मैडीकल समुदाय में सबसे ज्यादा चिंता फैल गई है। 

इस उम्र में आज तक पूरी दुनिया में कभी अल्जाइमर का रोगी नहीं देखा गया इसलिए चीन में चिकित्सकों को हैरानी के साथ ङ्क्षचता भी होने लगी है। चीन के रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र के गंभीर बीमारी निवारक केंद्र, पीपल्स डेली ऑनलाइन, पीपल्स हैल्थ और चीनी वृद्ध देखभाल संघ के अल्जाइमर केंद्र की सांझा रिपोर्ट यह बताती है कि अल्जाइमर के रोगियों की संख्या 60 वर्ष से ऊपर की आयु वर्ग में 62 फीसदी है तो वहीं इन रोगियों की संख्या 60 वर्ष से कम आयु वर्ग में 21.3 फीसदी तक जा पहुंची है, जो वैश्विक स्थिति की तुलना में बहुत खराब है। 

वैश्विक स्तर पर 60 वर्ष से कम आयु वर्ग के लोगों में अल्जाइमर का रोग होने का प्रतिशत मात्र 5 से 10 है। अल्जाइमर रोग पर हुए पुराने शोध तो यह बताते हैं कि इसकी गिरफ्त में आने वाले रोगियों की उम्र 60 वर्ष से शुरू होती है और 79 वर्ष से 85 वर्ष तक जाती है लेकिन ताजा शोध से चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं जिसमें यह पता चला है कि अब यह रोग बुजुर्गों तक सीमित नहीं रहा है बल्कि युवाओं को भी अपनी चपेट में लेने लगा है। 

अल्जाइमर रोग पर हुए नए शोध से यह पता चलता है कि अभी इस रोग पर बहुत सारा काम होना बाकी है, इस पर नए सिरे से शोध होना चाहिए, इस रोग के बारे में लोगों को जागरूकता बढ़ाई जानी चाहिए और इसे चीन में आगे बढऩे से रोकने के लिए भी कारगर कदम उठाना चाहिए। लेकिन मैडीकल सैक्टर के लोगों का कहना है कि चीन में अभी इस क्षेत्र में ज्यादा काम नहीं हुआ है और सरकार का ध्यान भी इस रोग के तेजी से युवाओं के बीच फैलने पर अभी तक नहीं गया है। मैडीकल सैक्टर से जुड़े लोगों का मानना है कि अल्जाइमर के युवाओं में तेजी से फैलने को लेकर समाज में लोगों में इस रोग के प्रति जागरूकता फैलाने की जरूरत है। 

अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अल्जाइमर से पैदा हुई चुनौती के उपचार के लिए एक विशिष्ट दवा के न होने से स्थिति गंभीर बन जाती है। 19 वर्षीय अल्जाइमर के युवा मरीज की रिपोर्ट अल्जाइमर रोग पर छपने वाली किताब में छापी गई है। यह रिपोर्ट च्या चैमिंपिग की टीम ने छापी है। यह रिपोर्ट चाइना न्यूज सॢवस के 4 फरवरी के संस्करण में भी छपी है। पूरे विश्व में ये 19 वर्षीय युवा ऐसा पहला अल्जाइमर का मरीज है जिसका विवरण मैडीकल से जुड़ी किताबों में सबूत के साथ छापा गया है। 

India

397/4

50.0

New Zealand

327/10

48.5

India win by 70 runs

RR 7.94
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!