अमेरिका-पाक संबंधों की खटास दूर करने US पहुंचे बिलावल भुट्टो, ब्लिंकन से की मुलाकात

Edited By Tanuja, Updated: 19 May, 2022 11:40 AM

blinken bilawal meet hold talks on strengthening ties

पाकिस्तान के विदेश मंत्री बिलावल भुट्टो जरदारी अमेरिका-पाकिस्तान संबंधों के बीच आई खटास को दूर करने की कोशिश के तहत अमेरिका...

इंटरनेशनल डेस्कः पाकिस्तान के विदेश मंत्री बिलावल भुट्टो जरदारी अमेरिका-पाकिस्तान संबंधों के बीच आई खटास को दूर करने की कोशिश के तहत अमेरिका पहुंचे।  बुधवार को यहां  संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय में पहुंचे बिलावल भुट्टो ने  अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन से मुलाकात की और दोनों देशों के बीच आर्थिक एवं वाणिज्यिक संबंधों के साथ-साथ क्षेत्रीय सुरक्षा स्थिति को मजबूत करने पर चर्चा की। दोनों नेताओं के बीच चर्चा ऐसे समय हुई है जब पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान के शासन के दौरान अमेरिका और पाकिस्तान के द्विपक्षीय संबंधों में अभूतपूर्व गिरावट आ गई थी।

 

अफगानिस्तान की स्थिरता व यूक्रेन के लिए समर्थन
दोनों नेताओं ने अफगानिस्तान की स्थिरता, यूक्रेन के लिए समर्थन और लोकतांत्रिक सिद्धांतों पर भी चर्चा की। ब्लिंकन ने ट्वीट किया, ‘‘बिलावल भुट्टो जरदारी और मैंने एक मजबूत और समृद्ध अमेरिका-पाकिस्तान द्विपक्षीय संबंध के लिए अपनी साझा इच्छा की पुष्टि की। मैं जलवायु, व्यापार और निवेश और क्षेत्रीय शांति एवं सुरक्षा मुद्दों पर अपने सहयोग का विस्तार करने के लिए उत्सुक हूं।'' अमेरिका के साथ पाकिस्तान के संबंध उदासीन रहे हैं, खासकर बाइडन प्रशासन के शासन में। बिलवाल की अमेरिका की यात्रा पाकिस्तान-अमेरिका संबंधों में अभूतपूर्व गिरावट के बीच हो रही है।

 

पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान कारण बिगड़े US-PAK संबंध
 दोनों देशों के संबंधों में खटास पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान के इस दावे से शुरू हुई थी कि वाशिंगटन ने पाकिस्तान के विपक्षी नेताओं के साथ मिलकर उनकी सरकार को गिराने की साजिश रची। बाइडेन प्रशासन ने खान के आरोपों को कई बार खारिज किया है। अमेरिकी विदेश विभाग प्रवक्ता नेड प्राइस ने बैठक के बारे में कहा कि दोनों नेताओं ने जलवायु, निवेश, व्यापार और स्वास्थ्य के क्षेत्र में साझेदारी के साथ ही लोगों के बीच संबंधों पर विस्तार से चर्चा की। प्राइस ने कहा ,‘‘ दोनों नेताओं ने क्षेत्रीय शांति, आतंकवाद का मुकाबला, अफगानिस्तान की स्थिरता, यूक्रेन के लिए समर्थन और लोकतांत्रिक सिद्धांतों पर अमेरिका-पाकिस्तान सहयोग के महत्व को रेखांकित किया।''

 

ब्लिंकन ने पाकिस्तान को लेकर बताई इच्छा
ब्लिंकन ने पाकिस्तान की  G7 की अध्यक्षता का स्वागत किया और जलवायु कार्रवाई और वैश्विक खाद्य सुरक्षा को आगे बढ़ाने के लिए प्रतिबद्धता जतायी। पाकिस्तान के विदेश मंत्री का प्रभार संभाल रहे बिलावल संयुक्त राष्ट्र में बुधवार को होने वाली ‘ग्लोबल फूड सिक्योरिटी कॉल टू एक्शन' पर मंत्रिस्तरीय बैठक में भाग लेने के लिए ब्लिंकन के निमंत्रण पर अमेरिका की पहली यात्रा पर हैं। अमेरिका मई महीने के लिए संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का अध्यक्ष है और ब्लिंकन वैश्विक खाद्य सुरक्षा पर कार्रवाई के लिए बैठकें आयोजित करने के लिए न्यूयॉर्क में हैं। बिलावल के साथ अपनी मुलाकात से पहले ब्लिंकन ने कहा कि वाशिंगटन विदेश मंत्री के साथ और पाकिस्तान में एक नयी सरकार के साथ काम करने के लिए ‘‘बहुत उत्सुक'' है।

 

उन्होंने कहा, ‘‘हम दोनों यहां आज थोड़ी देर बाद खाद्य सुरक्षा पर निश्चित रूप से महत्वपूर्ण मंत्री-स्तरीय बैठक के लिए यहां हैं। यह एक चुनौती है जिसे हम दुनिया भर में देख रहे हैं। अनेक स्थानों पर खाद्य असुरक्षा की स्थिति पहले से थी। यूक्रेन के खिलाफ रूस के आक्रमण से यह नाटकीय रूप से बढ़ गई है। इससे चार करोड़ ऐसे लोग और जुड़ जाएंगे जो खाद्य के लिहाज से असुरक्षित हैं।'' ब्लिंकन 19 मई को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की अमेरिका की अध्यक्षता में आयोजित पहले कार्यक्रम की अध्यक्षता करेंगे जो ‘संघर्ष और खाद्य सुरक्षा के बीच महत्वपूर्ण संबंधों पर केंद्रित एक खुली बहस होगी।'

 

Related Story

India

179/5

20.0

South Africa

131/10

19.1

India win by 48 runs

RR 8.95
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!