Covid: चीन के डरावने वीडियो वायरल; इमारतों से कूद आत्महत्या कर रहे लोग, बेरहमी से मारे पालतू जानवर

Edited By Tanuja, Updated: 26 Apr, 2022 12:47 PM

covid china s scary video goes viral people committing suicide

कोरोना वायरस  से चीन में भयावह स्थिति हो चुकी है । चीन अपनी ''जीरो कोविड नीति'' में बिल्कुल भी ढील देने के मूड में नहीं है जिसका असर देश की ...

बीजिंगः कोरोना वायरस  से चीन में भयावह स्थिति हो चुकी है । चीन अपनी 'जीरो कोविड नीति' में बिल्कुल भी ढील देने के मूड में नहीं है जिसका असर देश की अर्थव्यवस्था पर भी पड़ रहा है। सबसे बड़ा शहर शंघाई सख्त लॉकडाउन और संक्रमण से बढ़ती मौतों की दोहरी मार झेल रहा है। कोरोना का डर इस कदर फैल चुका है कि बीजिंग के कुछ इलाकों में लॉकडाउन लगा दिया गया है और एक जिले में कोविड टेस्ट को अनिवार्य कर दिया गया है।

 

 

  • करीब 2 करोड़ की आबादी वाले बीजिंग के कई रिहायशी इलाकों में लॉकडाउन लगा दिया गया है। पिछले वीकेंड दर्जनों मामले सामने आने के बाद शाओयांग जिले को इस हफ्ते तीन बार टेस्ट करने के आदेश जारी किए गए हैं। चेतावनी दी गई है कि आने वाले दिनों में बीजिंग में और अधिक मामले सामने आ सकते हैं। 
  • चीन ने मंगलवार को बीजिंग में दो करोड़ दस लाख लोगों की कोरोना वायरस संक्रमण की जांच कराने के आदेश दिए। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि इससे पहले देश में सोमवार को 35 लाख लोगों की जांच के आदेश दिए गए थे,जिनमें से 32 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई थी, वहीं शंघाई में 52और लोगों की संक्रमण से मौत हो गयी। 
  • इन मामलों के सामने आने के बाद संक्रमण के वर्तमान प्रसार के मामले बढ़कर 190 हो गए हैं। शंघाई के समान ही राजधानी बीजिंग में भी संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। राजधानी के 11जिलों में मंगलवार को सामूहिक जांच के आदेश दिए गए हैं, और अनुमान के मुताबिक यहां के दो करोड़ दस लाख लोगों की जांच की जाएगी। 

 सख्त लॉकडाउन कारण खाना-दवाई मिलना भी मुश्किल
 रिपोर्ट के मुताबिक, चीन में लोगों को खाने और दवाइयों के लिए भी काफी संघर्ष करना पड़ रहा है। कुछ दिन पहले एक वीडियो सामने आया था, जिसमें लोग बिल्डिंग की खिड़कियों से चिल्ला रहे थे। इसका कारण है कि सख्त लॉकडाउन के कारण खाना और दवाई मिलना भी मुश्किल हो रहा है। कुछ दिन पहले भी एक रिपोर्ट सामने आई थी, जिसमें लोगों का बोलना था कि वे दिन में सिर्फ एक बार खाना खा रहे हैं ताकि जिंदा रह सकें।

 

बेहरहमी से मारे जा रहे पालतू जानवर
महामारी के बीच कुछ वीडियोज सामने आ रहे हैं, जिसमें बताया जा रहा है कि जिन घरों में बिल्ली-कुत्ते थे और अगर उनके मालिक कोविड पॉजिटिव हो गए हैं तो उन्हें मारा जा रहा है। हालांकि सरकार की ओर से अभी तक कोई ऐसी जानकारी सामने नहीं आई है। अमेरिका के फेमस बास्केटबॉल प्लेयर Enes Freedom ने एक वीडियो शेयर किया जिसमें   कुत्ते और बिल्ली नजर आ रहे हैं. वीडियो के कैप्शन में उन्होंने लिखा, "शंघाई में 26 मिलियन लोग लॉकडाउन में हैं। लोग अपनी बाल्कनियों से आत्महत्या कर रहे हैं और कोविड पॉजिटिव लोगों के पालतू जानवरों को मारा जा रहा है।"

चाओयांग जिले में 35 लाख लोगों की जांच 
सोमवार को चाओयांग जिले में 35 लाख लोगों की जांच की गई ,जिनमें संक्रमण के 32 नए मामले सामने आए। बीजिंग के स्थानीय प्रशासन ने जिले के सभी लोगों की तीन बार जांच के आदेश दिए हैं। ये जांच बुधवार और शुक्रवार को भी दोहराई जाएगी। राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग की मंगलवार को जारी रिपोर्ट के अनुसार चीनी मुख्यभूमि में संक्रमण के स्थानीय प्रसार के 1,908 मामले सामने आए जिनमें से 1,661 मामले शंघाई से सामने आए। 
 

शंघाई में एक दिन में 39 मौतें
चीन के शंघाई में कोरोना से अबतक कुल 87 लोगों की मौत हुई हैं, जिनकी औसत आयु लगभग 81 वर्ष थी। न्यूज एजेंसी सिन्हुआ ने नगरपालिका स्वास्थ्य आयोग के हवाले से बताया कि मृतकों में सबसे बुजुर्ग 101 साल के थे। शहर में गंभीर हालत में 157 कोविड मरीज हैं और 18 गंभीर हालत में नामित अस्पतालों में इलाज करा रहे हैं। रविवार को शंघाई में 39 लोगों की कोरोना वायरस से मौत हो गई। इससे अधिकारियों के हाथ-पैर फूल गए क्योंकि एक दिन पहले यह आंकड़ा सिर्फ 12 था।
 

Related Story

Test Innings
England

India

134/5

India are 134 for 5

RR 3.72
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!