यूरोप में बरस रही आग और रेगिस्तानों में बाढ़ ! UAE में बारिश ने तोड़ा 27 साल का रिकॉर्ड, कतर भी डूबा (Video)

Edited By Tanuja,Updated: 01 Aug, 2022 01:25 PM

heavy rain in the uae floods in the desert  photos

जलवायु परिवर्तन के  घातक परिणाम अब सामने आने लगे हैं । उदाहरण के लिए यूरोपीय देशों व ब्रिटेन में गर्मी के चलते आग बरस रही और  रेगिस्तानों में

दुबईः जलवायु परिवर्तन के  घातक परिणाम अब सामने आने लगे हैं । उदाहरण के लिए यूरोपीय देशों व ब्रिटेन में गर्मी के चलते आग बरस रही और  रेगिस्तानों में बारिश ने तबाही मचा रखी है । दुनिया का बड़ा रेगिस्तान UAE इन दिनों बारिश से बेहाल है। यहां बारिश ने 27 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है । गुरुवार को कतर और संयुक्त अरब अमीरात में भारी बारिश हुई और सड़कें पानी से  भर गईं जिस कारण कई लोगों को होटलों में शरण लेनी पड़ी।  भारी बारिश के चलते UAE के पूर्वी हिस्सों में बाढ़ जैसी स्थिति पैदा हो गई, जिसने घरों को क्षतिग्रस्त किया और कई गाड़ियां इसमें बह गईं । 

PunjabKesari

खलीज टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार UAE के मौसम विभाग ने 'खतरनाक मौसम घटनाओं' के लिए रेड अलर्ट जारी किया है।  सोशल मीडिया पर शेयर किए जा रहे फोटो व वीडियो में  बारिश के बाद हाइवे पर गाड़ियां पानी में तैरती नजर आ रही हैं। एक वीडियो में बचावकर्मी बाढ़ प्रभावित इलाकों में फंसे लोगों को बचाते देखे जा सकते हैं। 

PunjabKesari

अल अरबिया इंग्लिश ने बताया कि UAE का आपदा प्रबंधन प्राधिकरण 20 से अधिक होटलों के साथ संपर्क में है, जिसमें बाढ़ से विस्थापित हुए 1,885 से अधिक लोग रह सकते हैं। UAE के मौसम विभाग का कहना है कि देश में बारिश ने 27 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है।  UAE जैसा हाल कतर का भी है। राजधानी दोहा की सड़कें भारी बारिश के बाद पानी में डूबी हुई हैं।

 

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Khaleej Times (@khaleejtimes)

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार गुरुवार को हुई बारिश के चलते विश्व कप आयोजन स्थल के पास सड़कें और गाड़ियां जलमग्न हो गईं। अल जजीरा ने बताया कि तूफान और बारिश गुरुवार तड़के शुरू हुई और इस हफ्ते के आखिर तक जारी रह सकती है। मौसम विभाग के अनुसार दोहा में करीब 38 मिमी बारिश दर्ज की गई है। रिपोर्ट के अनुसार दोहा में जुलाई के महीने में बारिश सामान्य नहीं है।

PunjabKesari
 गौरतलब है कि दुनिया के सबसे ठंडे  देशों में  शामिल इंग्लैंड में इतिहास का सबसे गर्म दिन दर्ज किया गया जब तापमान 40 डिग्री सेल्सियस के पार पहुंच गया। दक्षिण-पश्चिम लंदन के हीथ्रो में तापमान 40.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। दक्षिण-पूर्वी इंग्लैंड के सरे में पहली बार तापमान 39 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। इससे पहले 2019 में इंग्लैंड के कैम्ब्रिज बॉटैनिकल गार्डन में अधिकतम तापमान 38.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। 

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!