इस्लामी उपदेशक के समर्थकों ने सिंगापुर को दी 9/11 जैसे हमले की धमकी, मचा बवाल

Edited By Tanuja, Updated: 24 May, 2022 02:46 PM

supporters of indonesian preacher made threats linking 9 11 attacks

एक इस्लामी उपदेशक के समर्थकों ने सिंगापुर पर 9/11 जैसा आतंकी हमला करने की धमकी दी है जिसके बाद देश में हड़कंप मच गया है...

इंटरनेशनल डेस्कः एक इस्लामी उपदेशक के समर्थकों ने सिंगापुर पर 9/11 जैसा आतंकी हमला करने की धमकी दी है जिसके बाद देश में हड़कंप मच गया है। अमेरिका पर हुआ 9/11 हमला इतिहास का सबसे भयानक आतंकी हमला माना जाता है। इस हमले के जिक्र से ही लोगों की रूह कांपने लगती है। लेकिन हाल ही में एक इस्लामी उपदेशक के समर्थकों ने सिंगापुर पर आरोप लगाया कि यह देश 'इस्लाम से घृणा करने वाला' देश है। इतना ही नहीं उन लोगों ने अमेरिका पर हुए 9/11 आतंकवादी हमलों का जिक्र करते हुए कहा कि तुम्हारे ऊपर भी वैसा ही हमला कर देंगे।  

 

एजेंसी की एक रिपोर्ट के मुताबिक सिंगापुर के गृहमंत्री के षणमुगम ने बताया कि सोमाद के समर्थकों ने  सिंगापुर को 'इस्लाम से घृणा करने वाला देश' बताया और धमकी दी कि उन पर 9/11 जैसा हमला कर देंगे। इतना ही नहीं यह भी कहा गया कि उसके नेताओं के पास मुसलमानों और इंडोनेशिया के लोगों से माफी मांगने के लिए 48 घंटे का समय है। यह धमकी सोशल मीडिया पर दी गई है।  सिंगापुर के गृहमंत्री ने सोमवार को कहा कि इंडोनेशियाई उपदेशक अब्दुल सोमाद बटुबारा के सिंगापुर में प्रवेश पर पिछले सप्ताह प्रतिबंध लगा दिया गया था। सोमाद और उनके साथ यात्रा कर रहे छह अन्य लोग 16 मई को सिंगापुर के तनाह मेराह फेरी टर्मिनल पर पहुंचे थे, लेकिन उन्हें प्रवेश देने से इनकार कर दिया गया था और इंडोनेशिया भेज दिया गया था। इसके बाद उनके समर्थक लगातार सोशल मीडिया पर सरकार को टारगेट कर रहे थे।

 

जानकारी के अनुसार सोमाद को चरमपंथी और अलगाववादी शिक्षाओं का प्रचार करने के लिए जाना जाता है जो सिंगापुर के बहु-नस्ली और बहु-धार्मिक समाज में अस्वीकार्य हैं। गृहमंत्री ने बताया कि आंतरिक सुरक्षा अधिनियम के तहत कुछ लोगों की जांच भी की गई, उनमें से कुछ लोग सोमाद के समर्थक थे। उन्होंने कहा कि इसमें 17 वर्षीय एक किशोर भी शामिल है, जिसे जनवरी 2020 में हिरासत में लिया गया था। उन्होंने बताया कि किशोर ने यूट्यूब पर आत्मघाती बम विस्फोटों के बारे में सोमाद के व्याख्यान देखे थे और वह यह मानने लगा था कि यदि वह इस्लामिक स्टेट के लिए लड़ेगा और एक आत्मघाती हमलावर बनेगा, तो वह एक शहीद के रूप मे मरेगा। षणमुगम ने कहा कि इससे पता चलता है कि सोमाद के उपदेशों का वास्तव में असर पड़ता है।

Related Story

Trending Topics

India

179/5

20.0

South Africa

131/10

19.1

India win by 48 runs

RR 8.95
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!