'अग्निपथ योजना': हिंसा से दुखी हुए आनंद महिंद्रा ने 'अग्निवीरों' के लिए किया ये बड़ा ऐलान

Edited By Anu Malhotra, Updated: 20 Jun, 2022 10:37 AM

anand mahindra agniveers agnipath military scheme mahindra group

केंद्र सरकार की सेना में भर्ती की नई ''अग्निपथ योजना'' को लेकर सरकार के खिलाफ छात्रों के विरोध प्रदर्शन से दुखी होकर महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा ने ''अग्निवीरों'' के लिए एक बड़ा ऐलान किया। दरअसल, आनंद महिंद्रा ने अग्निवीरों को महिंद्रा...

नई दिल्लीः केंद्र सरकार की सेना में भर्ती की नई 'अग्निपथ योजना' को लेकर सरकार के खिलाफ छात्रों के विरोध प्रदर्शन से दुखी होकर महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा ने 'अग्निवीरों' के लिए एक बड़ा ऐलान किया। दरअसल, आनंद महिंद्रा ने अग्निवीरों को महिंद्रा ग्रुप में नौकरी देने का ऑफर दिया है।

आनंद महिंद्रा ने आज सुबह ट्वीट कर लिखा कि अग्निपथ योजना को लेकर जारी विरोध से दुखी हूं, बीते साल जब इस योजना का विचार सामने आया था, तब मैंने कहा था और अब मैं फिर दोहराता हूं कि इसके तहत अग्निवीर जो अनुशासन और कौशल सीखेंगे, वह उन्हें रोजगार के बेहतरीन मौके उपलब्ध कराएगा. उन्होंने कहा कि महिंद्रा ग्रुप ऐसे प्रशिक्षित, सक्षम युवाओं की भर्ती का स्वागत करता है। 

वहीं, आनंद महिंद्रा के इस ऐलान के बाद ट्विटर पर तमाम लोगों ने इसकी सराहना की और वहीं यूजर ने सवाल भी किए एक ने पूछा कि महिंद्रा ग्रुप में अग्निवीरों को क्या पोस्ट दी जाएगी? तो इसके जवाब में आनंद महिंद्रा ने कहा कि कॉरपोरेट सेक्टर में अग्निवीरों के लिए रोजगार की अपार संभावनाएं हैं। उन्होंने कहा कि लीडरशिप, टीमवर्क और फिजिकल ट्रेनिंग की बदौलत अग्निवीर के रूप में इंडस्ट्री को बाजार के हिसाब से पहले से तैयार प्रोफेशनल्स मिलेंगे। संचालन से लेकर प्रशासन और सप्लाई चेन मैनेजमेंट तक की पूरी मार्केट उनके लिए खुली है। 

बता दें कि थलसेना, वायुसेना और नौसेना में भर्ती की नई अग्निपथ योजना के तहत शुरू में 4 साल के लिए युवाओं को रखा जाएगा. ट्रेनिंग के बाद उन्हें तैनाती मिलेगी, चार साल के बाद 25 फीसदी अग्निवीरों को सेना मे आगे रखा जाएगा।
 
सरकार की तरफ से अग्निवीरों के लिए रक्षा मंत्रालय की नौकरियों और सशस्त्र बलों में 10 फीसदी आरक्षण समेत कई तरह की रियायतों का भी ऐलान किया गया है। बता दें कि इस समय यूपी, एमपी, हरियाणा, उत्तराखंड, कर्नाटक, असम, अरुणाचल जैसे कई प्रदेश सरकारी नौकरियों में अग्निवीरों को प्राथमिकता देने की घोषणा कर चुके हैं।

वहीं दूसरी तरफ, अग्निपथ योजना में चार साल की नौकरी के बाद फ्यूचर सिक्योर न होने पर छात्रों का आंदेलन जारी है। जिसके चलते बिहार, उत्तर प्रदेश, पंजाब, तेलंगाना सहित 10 राज्यों में आंदोलन और हिंसा के बाद 1,000 से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया गया है।


 

Related Story

Test Innings
England

India

134/5

India are 134 for 5

RR 3.72
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!