भारतीय डाक ने किया सावधान, गलती से भी क्लिक न करें इस Email लिंक पर, नहीं तो हो जाएगा आपका अकाउंट खाली

Edited By Anil dev, Updated: 23 Apr, 2022 05:29 PM

social media like india post email whatsapp telegram instagram

भारतीय डाक ने प्रश्नोत्तरी के माध्यम से छोटे यूआरएल सहित व्हाट्सएप, टेलीग्राम, इंस्टाग्राम जैसे सोशल मीडिया और ईमेल/एसएमएस के माध्यम से सरकारी सब्सिडी प्रदान करने का दावा करने वाली फर्जी वेबसाइटों से आम लोगों...

नेशनल डेस्क: भारतीय डाक ने प्रश्नोत्तरी के माध्यम से छोटे यूआरएल सहित व्हाट्सएप, टेलीग्राम, इंस्टाग्राम जैसे सोशल मीडिया और ईमेल/एसएमएस के माध्यम से सरकारी सब्सिडी प्रदान करने का दावा करने वाली फर्जी वेबसाइटों से आम लोगों को सतर्क रहने की अपील की है। डाक विभाग ने आज यहां जारी बयान में कहा‘‘ हम देश के नागरिकों को सूचित करना चाहते हैं कि भारतीय डाक सर्वेक्षण आदि के आधार पर सब्सिडी, बोनस या पुरस्कार की घोषणा जैसी किसी भी गतिविधि में शामिल नहीं है। 

नकली वेबसाइट 'http://adoptiondiscern.top/indiapost/tb.php?ruyofamp1650528224386 जैसे कई वेबसाइट भारतीय डाक पर लकी ड्रा करने का दावा कर रही है। भारतीय डाक/डाक विभाग का ऐसी गतिविधि से कोई लेना-देना नहीं है। ऐसी धोखाधड़ी गतिविधियों से सावधान रहें।इस तरह की अधिसूचना/संदेश/ई-मेल प्राप्त करने वाले लोगों से अनुरोध है कि वे ऐसे फर्जी और नकली संदेश पर विश्वास न करें या इसका उत्तर नहीं या कोई व्यक्तिगत विवरण साझा नहीं करें। 

यह भी अनुरोध किया जाता है कि किसी भी व्यक्तिगत रूप से पहचान-योग्य जानकारी जैसे जन्म तिथि, खाता संख्या, मोबाइल नंबर, जन्म स्थान और ओटीपी आदि साझा न करें।'' भारतीय डाक हालांकि विभिन्न रोकथाम तंत्रों के माध्यम से इन यूआरएल/लिंक्स/वेबसाइटों से बचाव के लिए आवश्यक कारर्वाई कर रहा है। व्यापक तौर पर आम लोगों से एक बार फिर अनुरोध किया जाता है कि वे किसी भी फर्जी / नकली संदेशों / संचार / लिंक पर विश्वास न करें या उनका जवाब न दें। 

Related Story

Trending Topics

Test Innings
England

India

134/5

India are 134 for 5

RR 3.72
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!