सातवें दिन भी नहीं सुलझा भारतीय टैंकर को रोकने का मामला

  • सातवें दिन भी नहीं सुलझा भारतीय टैंकर को रोकने का मामला
You Are HereNational
Sunday, August 18, 2013-11:14 PM

नई दिल्ली: ईरान द्वारा भारतीय तेल टैंकर को रोकने के मुद्दे को आज सातवें दिन भी नहीं सुलझाया जा सका। लगातार बातचीत के बावजूद दोनों देश इस मुद्दे को सुलझाने में विफल रहे हैं।

भारतीय जहाजरानी निगम के एक वरिष्ठ अधिकारी ने पीटीआई से कहा, अभी तक कोई प्रगति नहीं हुई है। यह जहाज अब भी बंदर अब्बास बंदरगाह पर ईरानी अधिकारियों के कब्जे में है। निगम से जुड़े टैंकर देश शांति को 12 अगस्त को ईरानियन रेवूलेशनरी गाड्र्स काप्र्स (आईआरजीसी) ने फारस की खाड़ी में रोक लिया और बाद में इसे बंदर अब्बास बंदरगाह पर ले जाया गया। यह टैंकर बशरा, इराक से तेल लेकर आ रहा था।

अधिकारियों का कहना है कि इस पोत से किसी तरह का प्रदूषण नहीं हो रहा जो कि अपेक्षाकृत नया है और इसकी क्षमता 140,000 टन कच्चे तेल की है। इस बीच भारत, तेहरान में अपने मिशन के जरिए टैंकर को छुड़ाने के लिए बातचीत कर रहा है। निगम के एक अन्य अधिकारी ने कहा, तेहरान में भारतीय दूतावास इस जहाज को छुड़ाने के लिए सक्रिय बातचीत कर रहा है। जहाज से किसी तरह का प्रदूषण नहीं हुआ और हमें जल्द ही सकारात्मक प्रगति की उम्मीद है।

उल्लेखनीय है कि नयी दिल्ली स्थित ईरानी दूतावास ने एक बयान में कहा था कि भारतीय टैंकर एमटी देश शांति को रोकना पूरी तरह तकनीकी व गैर राजनीतिक मुद्दा है और दोनों देशों के जहाजरानी अधिकारी इस मामले को अंतरराष्ट्रीय कानूनों के अनुसार जल्द से जल्द निपटाने के लिए रचनात्मक व सकारात्मक बातचीत कर रहे हैं। यह घटना ऐसे समय हुई है जबकि भारत, ईरान से कच्चे तेल का आयात घटाने के लिए कदम उठा रहा है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You