मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी वालों की संख्या बढ़ी

  • मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी वालों की संख्या बढ़ी
You Are HereBusiness
Saturday, October 26, 2013-2:23 PM

टेलीकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (ट्राई) के आंकड़ों के मुताबिक, इस अगस्त तक दस करोड़ असंतुष्ट ग्राहकों ने अपने मोबाइल ऑपरेटर बदल लिए हैं। सूत्रों के हवाले से लिखा कि सिर्फ अगस्त महीने में ही 23 लाख ग्राहकों ने अपने ऑपरेटर बदलने का आग्रह किया है। भारत में मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी के तहत मोबाइल फोन ग्राहकों को यह अधिकार मिला हुआ है कि वे अपने ऑपरेटर बदल सकते हैं।

जनवरी 2011 से यह सेवा शुरु हुई है और लोग लगातार अपने ऑपरेटर बदलते जा रहे हैं। लोगों की शिकायत भी है कि ऑपरेटर इतनी आसानी से उन्हें छोड़ते नहीं है और उसमें बाधाएं पैदा करते हैं।

अप्रैल 2014 से यह सुविधा देशव्यापी हो जाएगी। यानी देश के किसी भी हिस्से में नंबर बदले जा सकेंगे। इसके अलावा ग्राहक को यह अधिकार होगा कि वह अपना नंबर देश के किसी भी हिस्से में ले जा सके। इससे लोगों को नए शहर में जाकर नया कनेक्शन लेने की जहमत नहीं उठानी पड़ेगी।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You