कालेधन पर बड़ा प्रहार,13 बैंको ने सरकार को सौंपी रिर्पोट

You Are HereBusiness
Friday, October 06, 2017-12:50 PM

नई दिल्लीः कालेधन मामले पर मोदी सरकार को बड़ी सफलता हासिल हुई है। ब्लैक मनी को लेकर 13 बैंकों ने नोटबंदी के बाद के बाद हुए लेन- देन की जानकारी सरकार को सौंपी है। नोटबंदी के बाद संदिग्ध ट्रांजैक्शन के बारे में 13 बैंकों ने अहम आंकड़े सरकार को दिए हैं। इसमें 5800 संदिग्ध कंपनियों द्वारा लेनदेन का मामला सामने आया है। केंद्र सरकार के अनुसार, नोटबंदी के बाद कंपनी रजिस्ट्रार ने 2 लाख से ज्यादा कंपनियों पर पाबंदी लगा दी थी।यह बैंकों की जारी डाटा की पहली इन्स्टॉलमेंट है।

कुल 13 बैंको ने दी जानकारी
कॉरपोरेट अफेयर्स मिनिर्स्टी के अनुसार, 13 बैंकों ने 2,09,032 संदिग्ध कंपनियों की ओर से नोटबंदी के बाद लेनदेन और बैंक अकाउंट ऑपरेशंस से जुड़े अहम आंकड़े दिए हैं। इस साल की शुरुआत में कंपनी रजिस्ट्रार ने इन कंपनियों पर पाबंदी लगा दी थी।पांबदी लगने के बाद इन संदिग्ध कंपनियों के बैंक अकाउंट के ऑपरेशन पर रोक लग जाती है। इसमें केवल देनदारी के पेमेंट की छूट रहती है।
PunjabKesari
कई कंपनियों के 100 से ज्यादा अकाउंट 
बैंकों की ओर से करीब 5800 कंपनियां में 13140 अकांउट्स के आंकड़े मिले हैं। कई कंपनियों के नाम से 100 से ज्यादा अकाउंट मिले हैं। इनमें से एक कंपनी के पास 2143 अकाउंट मिले हैं। इसके बाद कई कंपनियों के पास 900 से 300 के बीच अकाउंट थे। मिनिस्ट्री के अनुसार, बैंकों ने बताया कि लोन अकाउंट्स को अलग करने के बाद इन कंपनियों के पास 8 नवंबर 2016 को उनके अकाउंट्स में महज 22.05 करोड़ रुपए बैलेंस था।
 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You