Subscribe Now!

महंगाई के मोर्चे पर राहत की उम्मीद नहीं

  • महंगाई के मोर्चे पर राहत की उम्मीद नहीं
You Are HereBusiness
Monday, February 12, 2018-3:50 AM

नई दिल्ली: पैट्रोल तथा डीजल के साथ सब्जियों की ऊंची कीमतों के कारण जनवरी में भी खुदरा महंगाई में ज्यादा राहत की उम्मीद नहीं है। जनवरी के खुदरा महंगाई के आंकड़े सोमवार को जारी होने हैं। इससे पहले दिसम्बर में लगातार तीसरे महीने बढ़ते हुए खुदरा महंगाई की दर 17 महीने के उच्चतम स्तर 5.21 प्रतिशत पर रही थी। 

जनवरी में डीजल की कीमतों के लगातार रिकॉर्ड स्तर पर रहने तथा पैट्रोल के अब तक के रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचने से मुद्रास्फीति पर दबाव है। खुदरा महंगाई के आधिकारिक आंकड़े में ईंधन एवं बिजली क्षेत्र का भारांक 7.94 प्रतिशत है। रिजर्व बैंक ने 7 फरवरी को द्विमासिक मौद्रिक नीति समीक्षा बयान में महंगाई पर चिंता जताई थी। उसने कहा था कि आम तौर पर दिसम्बर में सब्जियों की कीमतों में जितनी कमी होती है इस बार उतनी गिरावट नहीं हुई। 7वें वेतन आयोग की सिफारिशें लागू होने के बाद आवास भत्ते में हुई बढ़ौतरी का असर महंगाई दर पर जनवरी में भी बरकरार रहेगा। 

विशेषज्ञों का मानना है कि दालों और अनाजों की कीमतों की महंगाई दर में कुछ गिरावट जरूर आ सकती है, लेकिन कुल मिलाकर मुद्रास्फीति की दर में यदि गिरावट आती भी है तो वह बहुत ज्यादा नहीं होगी। इससे जनवरी में भी खुदरा महंगाई के 5 प्रतिशत से ऊपर बने रहने की संभावना है। 

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You