डोकोमो केस में 'चूक' के आरोपों पर मिस्त्री ने दी सफाई

  • डोकोमो केस में 'चूक' के आरोपों पर मिस्त्री ने दी सफाई
You Are Herecompany
Tuesday, November 01, 2016-4:33 PM

नई दिल्लीः जापानी कंपनी डोकोमो के साथ करार में विवाद से सही ढंग से न निपट पाने के आरोप पर टाटा ग्रुप के चेयरमैन पद अपदस्थ किए गए साइरस मिस्त्री ने जवाब दिया है। मिस्त्री ने कहा है कि डोकोमो मामले में टाटा संस की संस्कृति और मूल्यों के अनुसार फैसले न लेने का आरोप गलत और आधारहीन है। मिस्त्री ने पद से हटाए जाने के बाद ग्रुप की ओर से लगाए गए आरोपों के जवाब में कहा कि डोकोमो सौदे के बारे में सभी फैसले टाटा संस के निदेशक मंडल की मंजूरी से ही लिए गए थे। 

उन्होंने कहा कि मेरे कार्यकाल के दौरान उठाए गए सभी कदम सामूहिक रूप से लिए जाने वाले निर्णयों के अनुसार थे। यही नहीं मिस्त्री ने मुकदमा लड़ने के तरीके को लेकर भी साफ किया कि यह कहना गलत होगा कि (डोकोमो मामले में) जिस तरह से केस लड़ा गया, उसे रतन टाटा और न्यासियों से अनुमति नहीं मिलती।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You