सरकारी बैंकों के मर्जर की तैयारी, अगले हफ्ते होगा फैसला

  • सरकारी बैंकों के मर्जर की तैयारी, अगले हफ्ते होगा फैसला
You Are HereBusiness
Thursday, August 10, 2017-11:48 AM

नर्ई दिल्लीः सरकारी बैंकों के मर्जर का एक और दौर जल्द शुरू हो सकता है। जानकारी के मुताबिक 15 अगस्त के बाद 1-2 मर्जर पर फैसला हो सकता है। केनरा बैंक, बैंक ऑफ बड़ौदा और पीएनबी में कुछ छोटे बैंकों का मर्जर हो सकता है। पूर्वी भारत के बैंकों के विलय पर बाद में विचार किया जाएगा। इसके पहले सरकार ने एसबीआई के सहयोगी बैंकों का एसबीआई में मर्जर किया था। वित्त मंत्रालय चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही के नतीजों की घोषणा के बाद सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के एकीकरण की प्रक्रिया शुरू करेगा। एक वरिष्ठ अधिकारी ने आज यह जानकारी दी।

मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा कि विलय पर निर्णय से पहले वित्तीय प्रदर्शन के साथ कई अन्य चीजों को देखना होगा। अधिकारी ने कहा कि कई चीजों मसलन क्षेत्रीय संतुलन, भौगोलिक पहुंच, वित्तीय बोझ और मानव संसाधन के सुगम तरीके से स्थानांतरण पर ध्यान देना होगा और उसी के बाद विलय पर फैसला किया जाएगा। अधिकारी ने कहा कि किसी बेहद कमजोर बैंक का मजबूत बैंक में विलय नहीं होना चाहिए क्योंकि इससे मजबूत बैंक पर दबाव बनेगा। उन्होंने कहा कि यह काफी जटिल प्रक्रिया होगी। सभी बैंकों के जून तिमाही के नतीजों के बाद इस मोर्चे पर कुछ गतिविधियां देखने को मिलेंगी।     

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You