नोटबैनः अब होगा अपना आशियाना, कम होगी प्रॉपर्टी की कीमत

  • नोटबैनः अब होगा अपना आशियाना, कम होगी प्रॉपर्टी की कीमत
You Are HereProperty
Tuesday, November 22, 2016-12:46 PM

नई दिल्लीः हर आदमी का सपना होता है कि उसका अपना घर हो, लेकिन रियल एस्टेट की ऊंची कीमतें उसे किराए के घर में रहने पर मजबूत करती हैं। हालांकि, हाल में हुई कुछ घटनाओं के बाद परिस्थिति तेजी से बदल रही है। उम्मीद की जा रही है कि आने वाले समय में आम आदमी भी आशियाने का सपना पूरा कर सकता है।

रियल एस्टेट में होता है ब्लैक मनी का इस्तेमाल 
सरकार ने पिछले दिनों 500 और 1000 रुपए के नोट बंद कर ब्लैक मनी जमा करने वालों को करारा झटका दिया। इससे देश के कई हिस्सों में प्रॉपर्टी के कीमत में गिरावट आने की उम्मीद है। जानकारों के मुताबिक, रियल एस्टेट में ब्लैक मनी का बहुत इस्तेमाल होता रहा है। बहुत से डिवेलपर्स और विक्रेता घर खरीदने वालों से कीमत का एक बड़ा हिस्सा कैश में लेते हैं।

नोटबंदी से लगेगी काले धन पर लगाम
बताया जा रहा है कि 500 और 1000 के नोट बंद होने से इस 'खेल' पर लगाम लगेगा। इस कदम का दूसरा असर यह होगा कि बैंकों में अत्यधिक कैश जमा होने की वजह से ब्याज दरें नीचे आएंगी और ई.एम.आई. में राहत मिलेगी। इसके अलावा कई डिवेलपर्स अफोर्डबल हाउसिंग सेगमेंट पर फोकस कर रहे हैं। यह ऐसे लोगों के लिए सुनहरा मौका है, जिन्हें मेट्रो सिटीज में अपना घर पाना कठिन लगता है।

अब खरीदारों को नहीं होगी परेशानी
इन चीजों के अलावा कई राज्य रियल एस्टेट रेग्युलेटरी ऐक्ट को खरीदारों का हितैषी बना रहे हैं। अब खरीदारों को अधिक पारदर्शिता मिलेगी। इसके साथ ही प्रॉजेक्ट की देरी और अन्य ऐसी गतिविधियों बंद होंगी, जिनकी वजह से खरीदार परेशान होते हैं।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You