वैश्विक रुख और तिमाही परिणामों से तय होगी बाजार की चाल

  • वैश्विक रुख और तिमाही परिणामों से तय होगी बाजार की चाल
You Are HereStock Market
Sunday, October 16, 2016-1:09 PM

मुंबईः वैश्विक दबाव से गत सप्ताह घरेलू शेयर बाजार में डेढ़ फीसदी तक की गिरावट के बाद आने वाले सप्ताह में इसकी चाल अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कच्चा तेल और डॉलर के रुख तथा घरेलू स्तर पर कंपनियों के तिमाही परिणामों पर निर्भर करेगी। बीते सप्ताह बी.एस.ई. का 30 शेयरों वाला संवदी सूचकांक सैंसेक्स 1.48 प्रतिशत यानी 417 अंक लुढ़ककर 27,673.60 अंक पर आ गया। 

नैशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 1.46 प्रतिशत अर्थात् 127.7 अंक की साप्ताहिक गिरावट के साथ शुक्रवार को 8,583.40 अंक पर बंद हुआ। मंगलवार को दशहरा तथा बुधवार को मुहर्रम के अवकाश के कारण बाजार में 3 दिन ही कारोबार हुआ जिसमें 2 दिन यह मामूली बढ़त में तथा गुरुवार को बड़ी गिरावट में रहा। आने वाले सप्ताह में यदि वैश्विक बाजारों में तेजी आई तो घरेलू बाजारों में भी चमक लौट सकती है। अगले सप्ताह बड़ी कंपनियों में विप्रो तथा एसीसी सीमेंट के परिणाम आने हैं। 

विप्रो सैंसेक्स की 30 कंपनियों में शामिल है। इसलिए, इसके परिणाम का सीधा असर सूचकांकों पर पड़ेगा। सोमवार को विदेशी बाजारों के मिले-जुले रुख के बीच सैंसेक्स ने 21.20 अंक की बढ़त के साथ सप्ताह की शुरूआत की। निफ्टी भी 11.20 अंक की तेजी में रहा लेकिन दो दिन के अवकाश के बाद गुरुवार को बाजार खुलते ही इस पर चीन के कमजोर व्यापारिक आंकड़ों का दबाव दिखा। सैंसेक्स 439.23 अंक का गोता लगाकर 3 महीने के निचले स्तर तथा निफ्टी 135.45 अंक टूटकर डेढ़ महीने के निचले स्तर तक उतर गया। शुक्रवार को कुछ संभलते हुए सैंसेक्स 30.49 अंक चढ़कर 27,673.60 अंक पर तथा निफ्टी 10.05 अंक उठकर 8,583.40 अंक पर पहुंच गया लेकिन यह बढ़त बाजार को साप्ताहिक गिरावट से बचाने में नाकाम रही। 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You