श्री महाकालका नंदीकलेश्वर मंदिर में मेला 20 से 22 तक

  • श्री महाकालका नंदीकलेश्वर मंदिर में मेला 20 से 22 तक
You Are HereDharm
Friday, May 19, 2017-8:48 AM

जालंधर के ज्योति चौक में स्थित 30 वर्ष पुराना श्री महाकालका नंदीकलेश्वर मंदिर भक्तों की आस्था का प्रतीक है। उक्त मंदिर के पास एक नीम का पुराना पेड़ है। 30 वर्ष पहले उक्तपेड़ के नीचे कपड़े प्रैस करने वाले को 10 रुपए का नोट मिला। नोट मिलने की खबर पूरी मार्कीट में फैल गई। उसी रात उस आदमी को सपना आया कि इसी नीम के पेड़ के नीचे मां काली के मंदिर का निर्माण होना चाहिए। उसने रात के सपने के सम्बन्ध में सुबह मार्कीट में सभी को बताया। मार्कीट वालों और मां के भक्तों ने मिलकर मां काली के मंदिर का निर्माण कार्य आरम्भ कर दिया। भक्तों की श्रद्धा और आस्था ने महाकालका नंदीकलेश्वर मंदिर का निर्माण कर दिया। तब से लेकर आज तक भक्तों का मंदिर में तांता लगा रहता है। पिछले 11 वर्षों से मां के सेवक मां का जगराता करवाते आ रहे हैं। इस वर्ष भी मां कालका की कृपा से मां के सेवकों द्वारा 20 से 22 मई तक मां के मेले का आयोजन किया जा रहा है।


22 मई को करवाया जाएगा मां का जगराता
हर वर्ष की तरह इस बार भी 22 मई को मां का जगराता करवाया जाएगा। इससे पहले मां के सेवकों द्वारा 20 मई को कलश यात्रा और 21 मई को जागो का आयोजन किया जाएगा। कलश यात्रा में मां कालका के स्वरूपों का नृत्य मुख्य आकर्षण का केन्द्र रहेगा। कलश यात्रा के रास्ते में मां के सेवकों द्वारा जगह-जगह कोल्ड ड्रिंक्स और चाय- कॉफी-पकौड़े आदि का प्रबंध किया गया है। कलश यात्रा ज्योति चौक से होते हुए सिविल अस्पताल के आगे से अली पुली मोहल्ला, शेखां बाजार से होते हुए रात को वापस मां के मंदिर में समाप्त होगी।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You