‘साइलैंस ब्रेकर्स’  पर्सन ऑफ द ईयर घोषित, ट्रंप को दूसरा स्थान

You Are HereInternational
Thursday, December 07, 2017-2:27 PM

वॉशिंगटनः अमरीका की प्रतिष्ठित पत्रिका ‘टाइम’ ने वर्ष 2017 के लिए ‘टाइम पर्सन ऑफ द ईयर’ की घोषणा कर दी है। इस बार टाइम पर्सन ऑफ द ईयर कोई एक नहीं, बल्कि यौन शोषण और यौन हिंसा के खिलाफ आवाज बुलंद करने वाली सभी महिलाएं बनी हैं। पत्रिका ने #Meetoo अभियान में हिस्‍सा लेने वालीं ‘साइलैंस ब्रेकर्स’ को पर्सन ऑफ द ईयर घोषित किया है। पर्सन ऑफ द ईयर की सूची में अमरीकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप को दूसरा और चीनी राष्‍ट्रपति शी चिनफिंग को तीसरा स्‍थान प्रदान किया गया है।
PunjabKesari
टाइम पत्रिका ने बुधवार को ‘टूडे शो’ कार्यक्रम के दौरान पर्सन ऑफ द ईयर-2017 की घोषणा की। यौन हिंसा के खिलाफ सामने आने के अभियान के तहत हॉलीवुड दिग्‍गज हार्वी विनस्‍टीन के खिलाफ यौन दुर्व्‍यवहार करने की बात सामने आई थी। अभिनेत्री एश्‍ली जुड ने विनस्‍टीन पर यौन शोषण का आरोप लगाया था। विनस्‍टीन उस वक्‍त (1997) में मीरामैक्‍स स्‍टूडियो के प्रमुख थे। इसके बाद यौन हिंसा के खिलाफ बोलने वालों की बाढ़ सी आ गई थी। देखते ही देखते इस अभियान ने वैश्विक रूप ले लिया था। #Meetoo अभियान में विभिन्‍न देश, धर्म, जाति और नस्‍ल की महिलाओं ने हिस्‍सा लिया और खुलकर अपनी बात लोगों के सामने रखी।
PunjabKesari
#Meetoo अभियान की शुरुआत तराना बुर्के ने वर्ष 2006 में की थी। उन्‍होंने यौन शोषण की शिकार रहीं महिलाओं को इस अपराध के खिलाफ एकजुट करने के उद्देश्‍य से इस मूवमैंट की शुरुआत की थी। इसे सुर्खियों में लाने का श्रेय अमरीकी अभिनेत्री एलिसा मिलानो को जाता है। उन्‍होंने ट्वीट किया था, ‘यदि आप यौन शोषण या हिंसा की शिकार रही हैं तो आप इस ट्वीट का जवाब ‘मी टू’ लिखकर दें।’ इसके बाद बड़ी तादाद में पीड़ित महिलाएं सामने आईं और इसके खिलाफ आवाज बुलंद की।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You