उत्तर कोरिया ने किया 'बैलिस्टिक मिसाइल' टेस्ट, ट्रंप बोले- देख लेंगे

  • उत्तर कोरिया ने किया 'बैलिस्टिक मिसाइल' टेस्ट, ट्रंप बोले- देख लेंगे
You Are HereLatest News
Wednesday, November 29, 2017-9:31 AM

सोल: दुनिया भर के देशों की तमाम कोशिशों के बावजूद उत्तर कोरिया का सनकी तानाशाह अपने परमाणु तथा मिसाइक कार्यक्रमों को रोकने के लिए तैयार नहीं है। उसने आज एक और बैलिस्टिक मिसाइल का परीक्षण किया। यह जानकारी दक्षिण कोरिया की समाचार एजेंसी योन्हाप ने द. कोरिया के ज्वाइंट चीफ ऑफ स्टाफ के हवाले से दी है। एजेंसी के रिपार्ट के अनुसार उ. कोरिया ने पूर्व की दिशा में मिसाइल को छोड़ा जिसका विश्लेषण द. कोरिया की सेना अमेरिका के साथ मिलकर कर रही है।  इससे पहले अमेरिकी सरकार को दो आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि अमेरिकी सरकार के विशेषज्ञों का मानना है कि उ. कोरिया द्वारा सितंबर के मध्य में जापान के ऊपर से दागे गए मिसाइल के बाद यह पहला मिसाइल परीक्षण है।

वहीं उत्तर कोरिया के मिसाइल परीक्षण पर अमेरिका के राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप की प्रतिक्रिया आई है, ट्रंप ने कहा कि वे उत्तर कोरिया को देख लेंगे। नॉर्थ कोरिया के मिसाइल टेस्ट पर ट्रंप ने कहा, ''आप लोगों ने सुना होगा उत्तर कोरिया ने मिसाइल लॉन्च की है, मैं सिर्फ इतना कहूंगा कि मैं नॉर्थ कोरिया को देख लूंगा। उत्तर कोरिया के मिसाइल टेस्ट के बाद हमने लंबी चर्चा की है, हम इससे निपट लेंगे।'' अमेरिका के रक्षा मंत्री जिम मैटिस ने आशंका जताई कि उत्तर कोरिया संभवत: ऐसी मिसाइलें विकसित कर रहा है जो ‘‘दुनिया में कहीं भी’’ मार करने में सक्षम होंगी।

मैटिस के अनुसार दो महीने की शांति के बाद प्योंगयांग ने एक अंतरमहाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइल (आईसीबीएम) का प्रक्षेपण किया, जिसने उसके द्वारा दागी गई पहले की सभी मिसाइलों से कहीं अधिक ऊंची उड़ान भरी।  ऐसा माना जा रहा है कि आईसीबीएम बिना किसी को नुकसान पहुंचाए जापान के विशेष आॢथक क्षेत्र (ईईजेड) में जा गिरी। जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने कहा कि यह ताजा मिसाइल प्रक्षेपण एक ‘‘हिंसक कृत्य’’ है जिसे बर्दाशत नहीं किया जा सकता। साथ ही उन्होंने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की बैठक तत्काल बुलाने की मांग की।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You