<

नोटबंदी को ‘घोटाला’ कहना अजीबोगरीब: वेंकैया नायडू

  • नोटबंदी को ‘घोटाला’ कहना अजीबोगरीब: वेंकैया नायडू
You Are HereNational
Wednesday, December 14, 2016-9:21 PM

 नई दिल्ली: नोटबंदी को ‘‘घोटाला’’ करार देने पर विपक्ष को आड़े हाथ लेते हुए केंद्रीय मंत्री एम वेंकैया नायडू ने आज कहा कि सरकार के फैसले पर किसी के मतभेद हो सकते हैं, लेकिन इसे घोटाला कहना ‘‘अजीबोगरीब’’ है ।   उन्होंने विपक्ष के इस आरोप को ‘‘शैतान की आेर से धर्म का पाठ पढ़ाने’’ जैसा करार दिया कि 500 और 1000 रुपए के पुराने नोटों को बंद करना ‘‘धोखाधड़ी और लूट’’ है । उन्होंने पिछली यूपीए सरकार पर आरोप लगाया कि उसने कई घोटालों को दबाए रखा।  केंद्रीय मंत्री ने विपक्ष पर ‘‘बार-बार मुद्दा बदलने’’ का आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार संसद में किसी भी मुद्दे पर चर्चा के लिए तैयार है, चाहे वह करोड़ों रूपए के अगस्तावेस्टलैंड करार के मामले में पूर्व वायुसेनाध्यक्ष एस पी त्यागी की गिरफ्तारी का ही मुद्दा क्यों न हो ।   

‘आवास एवं शहरी विकास पर एशिया प्रशांत मंत्री-स्तरीय सम्मेलन’ के इतर नायडू ने कहा, ‘‘हो सकता है कि आप (विपक्ष) इस पहल (नोटबंदी) से सहमत नहीं हों । आप आलोचना कर सकते हैं, मुझे कोई समस्या नहीं है । लेकिन इसे पूरी तरह खारिज कर देना और इसे घोटाला करार देना वाकई अजीबोगरीब है। यह बताता है कि देश की राजनीति किस स्तर तक गिर चुकी है ।’’   नायडू ने कहा कि अल्पकालिक तौर पर देखें तो नोटबंदी से कुछ समस्याएं होंगी, लेकिन लंबी अवधि में यह काफी फायदेमंद साबित होने वाला है।  
 

पूर्व वायुसेना अध्यक्ष की गिरतारी, काले धन को सफेद बनाने की पेशकश करने वाले नेताओं को दिखाने वाले स्टिंग ऑपरेशन और नोटबंदी के बाद कुछ बैंक कर्मियों की गिरतारी जैसे मुद्दों का हवाला देते हुए नायडू ने कहा कि इन सब मुद्दों पर संसद में चर्चा करने की जरूरत है। 
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You