अटल बिहारी वाजपेयी की शख्सियत ‘भारत रत्न’ से भी बड़ी: फारूक

  • अटल बिहारी वाजपेयी की शख्सियत ‘भारत रत्न’ से भी बड़ी: फारूक
You Are HereNational
Monday, November 18, 2013-3:53 PM

नई दिल्ली: केंद्रीय मंत्री फारूक अब्दुल्ला ने आज पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को ‘भारत रत्न’ प्रदान किए जाने की मांग का समर्थन किया और कहा कि उनकी शख्सियत इस सम्मान से भी बड़ी है। नवीन एवं नवीकरणीय उर्जा मंत्री ने कहा कि वाजपेयी को यह सम्मान देने का वह ‘‘व्यक्तिगत आग्रह’’ करेंगे।

अब्दुल्ला ने यहां अद्र्धसैनिक बल, केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) द्वारा आयोजित रक्तदान शिविर से इतर संवाददाताओं से कहा, ‘‘मैं भाजपा का आदमी नहीं हूं लेकिन मैं एक भारतीय हूं और मुझे लगता है कि कोई भी यह नहीं भूल सकता कि वह :वाजपेयी: बेहतरीन नेता हैं।’’

उन्होंने कहा, ‘‘मैं आपको अवश्य बताना चाहूंगा कि जब उन्होंने पहली बार लोकसभा में भाषण दिया था तब जवाहरलाल नेहरू उनके पास गए थे और उन्होंने उनसे कहा था कि एक दिन आप जरूर देश के प्रधानमंत्री बनेंगे। नेहरू ने ये बात तब कही जब कोई भी यह नहीं सोच सकता था कि एक दिन वे सच में प्रधानमंत्री बनेंगे।’’

अब्दुल्ला ने कहा, ‘‘मैं व्यक्तिगत आग्रह करूंगा कि ऐसी बड़ी शख्सियत (वाजपेयी), जो ‘भारत रत्न’ से भी बड़ी है, उन्हें उनका उचित सम्मान दिया जाना चाहिए और अभी दिया जाना चाहिए।’’

सरकार द्वारा क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर और वैज्ञानिक सी. एन. आर. राव को भारत के सर्वोच्च नागरिक सम्मान से सम्मानित किए जाने की घोषणा के बाद भाजपा ने वाजपेयी को भी इस सर्वोच्च नागरिक सम्मान से नवाजे जाने की मांग की है।अब्दुल्ला की नेशनल कॉन्फ्रेंस (एनसी) भाजपा के नेतृत्व वाली राष्ट्रीय राजग सरकार का हिस्सा थी, लेकिन गुजरात दंगों के बाद उसने राजग का साथ छोड़ दिया था।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You