तेज विकास के लिए धीमी’ प्रक्रिया स्वीकार्य नहीं: प्रणब

  • तेज विकास के लिए धीमी’ प्रक्रिया स्वीकार्य नहीं: प्रणब
You Are HereNational
Friday, November 29, 2013-6:33 PM

नई दिल्ली: राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने आज कहा कि अगर हम देश का तेज गति से विकास चाहते हैं तो ‘फैसले करने की धीमी’ प्रक्रिया स्वीकार्य नहीं है। राष्ट्रपति ने साथ ही रेखांकित किया कि वह जल्दबाजी में फैसले करने का पक्ष नहीं लेते हैं। मुखर्जी ने कहा कि अगर हम चाहते हैं कि हमारा देश तेज गति से विकास करे तो हम फैसले करने में धीमी गति बर्दाश्त नहीं कर सकते। मैं यह नहीं कह रहा हूं कि फैसले जल्दबाजी में हों।

मुखर्जी ने कहा कि लेकिन फैसले करने में बचना या इसे लंबा खींचना अस्वीकार्य है। व्यक्ति की सर्वश्रेष्ठ क्षमता से तथ्यों, आंकड़ों और वास्तविक आकलन पर आधारित सुविचारित फैसले सुशासन के लिए जरूरी शर्त है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You