जीते प्रत्याशी नहीं चाहते जल्दी हो दोबारा चुनाव

  • जीते प्रत्याशी नहीं चाहते जल्दी हो दोबारा चुनाव
You Are HereNational
Tuesday, December 10, 2013-1:14 AM

नई दिल्ली : चुनाव परिणाम में त्रिशंकु विधानसभा की स्थिति ने सभी राजनीतिक पार्टियों को पसोपेश में डाल दिया है। राजनीतिक पाॢटयों के नेता यह तय नहीं कर पा रहे हैं कि किसी पार्टी से गंठबंधन कर सरकार बनाएं या फिर राष्ट्रपति शासन लागू करा चुनाव की तैयारी में जुट जाएं।

दूसरी ओर, चुनाव जीतकर आए प्रत्याशी किसी भी हालत में दोबारा चुनावी मैदान में उतरने को तैयार नहीं हैं। उनका कहना है कि यदि दोबारा चुनाव होते हैं तो जनता का मूड भांपना आसान नहीं है और ऐसे में जीत की गारंटी तो दूर उम्मीद जताना भी संभव नहीं होगा, इसलिए पार्टियों को चाहिए कि चाहे जितने समय तक भी सरकार चले लेकिन किसी न किसी पार्टी को सरकार बनाने के लिए आगे आना चाहिए।

इनका कहना है कि दोबारा चुनाव होने से हम प्रत्याशियों का खर्च बढऩे के साथ सरकारी राजस्व को भी नुक्सान होगा क्योंकि फिर से चुनाव कराने में सारी तैयारी करने में चुनाव आयोग का खर्च सरकारी खजाने से ही किया जाएगा। भाजपा के एक जीते हुए प्रत्याशी कहते हैं कि अभी-अभी हमने इतने पैसे लगाकार चुनाव में जीत दर्ज की है।  दूसरी ओर कुछ जीते प्रत्याशी तो आप की हवा से डरे भी हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You