मोदी से राजनीतिक रूप से नहीं, विचित्र तरीकों से निपटना चाहती है कांग्रेस: जेटली

  • मोदी से राजनीतिक रूप से नहीं, विचित्र तरीकों से निपटना चाहती है कांग्रेस: जेटली
You Are HereNational
Saturday, December 21, 2013-8:56 AM

नई दिल्ली: भाजपा के वरिष्ठ नेता अरुण जेटली ने आज कहा कि कांग्रेस नहीं जानती कि नरेंद्र मोदी से राजनीतिक रूप से कैसे निपटा जाए इसलिए वह अपने संगठन को मजबूत करने या अपने नेताओं के करिश्मा का निर्माण करने के बजाय मुख्य विपक्षी दल के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार से सीबीआई और विचित्र टिप्पणियों से मुकाबला करने में जुटी है। जेटली ने कहा कि गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे का यह कहना कि गुजरात में एक युवती की कथित रूप से मोदी के इशारे पर जासूसी करने के मामले की जांच के लिए केन्द्र आयोग का गठन कर सकता है, इस बात का सुबूत है।

 

उन्होंने कहा, यह इस बात का भी सुबूत है कि कांग्रेस हाल की अपनी चुनावी हारों से भी सबक सीखने को तैयार नहीं है। जेटली ने कहा, इस मामले में गुजरात सरकार खुद जांच आयोग गठित कर चुकी है और केन्द्र सरकार द्वारा उसी मुद्दे पर एक और जांच आयोग गठित करने की बात करना अजीबो गरीब है। उन्होंने कहा कि आर्थिक समस्याओं और भ्रष्टाचार के मामलों से निपटने पर ध्यान देने की बजाय गुजरात के कथित जासूसी मामले में जांच आयोग गठित करने की तैयारी इस बात की पुष्टि करती है कि कांग्रेस पार्टी को क्षुद्र बदले की राजनीति ही रास आती है।

 

भाजपा नेता ने आरोप लगाया कि 2जी स्पेक्ट्रम घोटाले मामले को संयुक्त संसदीय समिति की रिपोर्ट में जोड़-तोड़ करके दफनाने के बाद कांग्रेस अब आदर्श घोटाले की सचाई को छिपाने का प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र मंत्रिमंडल ने इस मामले की रिपोर्ट को स्वीकार नहीं करके यही किया है। उन्होंने कहा, ‘‘जेपीसी ने 2जी घोटाले को दफन किया। महाराष्ट्र कैबिनेट ने आदर्श धोखाधड़ी को। लेकिन क्या सचाई कभी दफन हो सकती है? ’’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You