झज्जर में बनेगा देश का नेशनल कैंसर संस्थान

  • झज्जर में बनेगा देश का नेशनल कैंसर संस्थान
You Are HereNational
Thursday, December 26, 2013-8:09 PM

नई दिल्ली : देश का राष्ट्रीय कैंसर संस्थान हरियाणा में स्थापित होगा। झज्जर के बाढ़सा स्थित एस-2 में इस संस्थान को स्थापित करने पर आज केंद्रीय मंत्रिमंडल ने मुहर लगा दी।

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने इसके लिए पहले चरण में 2035 करोड़ रुपए की राशि की मंजूरी दी है। नेशन कैंसर इंस्टीटयूट गरीब मजूदरों को विश्वस्तरीय इलाज की सुविधाएं प्रदान करेगा। देश का अपनी ही तरह का राष्ट्रीय कैंसर संस्थान 45 महीने की अवधि में बनकर तैयार हो जाएगा।

राष्ट्रीय कैंसर संस्थान को लेकर कैबिनेट की विशेष बैठक हुई और बैठक में राष्ट्रीय कैंसर संस्थान को हरियाणा के बाढ़सा (झज्जर) में निर्माण को हरी झंडी दे दी गई। 710 बेड वाले राष्ट्रीय कैंसर संस्थान कैंसर शल्य चिकित्सा,विकिरण कैंसर विज्ञान, चिकित्सा आन्कालोजी सहित अनेक विशेषताओं के साथ कैंसर की नवीनतम इलाज और अनुसंधान का काम करेगा।

जानकारी के मुताबिक अगले दो महीने में कैंसर की ओ.पी.डी. शुरू कर दी जाएगी। हरियाणा के एस-2 ओ.पी.डी. में भी कैंसर के इलाज से संबंधित वे सभी सुविधाए होंगी जो दिल्ली स्थित एस में हैं। इससे भारत के लोगों को सीधा फायदा पहुंचेगा।

रोहतक के सांसद दीपेंद्र सिंह हुड्डा ने इसके लिए प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह एवं केंद्रीय मंत्रिमंडल के मंत्रियों का आभार जताया है। राष्ट्रीय कैंसर संस्थान को हरियाणा में लाने के लिए कांग्रेस सांसद दीपेंद्र हुड्डा पिछले लंबे समय से प्रयास कर रहे थे। कई दिन पहले ही उन्होंने इस बात का इशारा भी दे दिया था कि राष्ट्रीय कैंसर संस्थान हरियाणा में स्थापित होगा।

देश में कैंसर से संबंधित बड़ा अस्पताल टाटा मैमोरियल इंस्टीटयूट मुंबई मे ही है। यह संस्थान टाटा गु्रप एवं सरकार के सहयोग सेे कैंसर के इलाज व अनुसंधान के क्षेत्र में कार्य कर रहा है। मरीजों की बढ़ती संख्या के कारण लंबे समय से देश में एक राष्ट्रीय स्तर के कैंसर संस्थान की जरूरत महसूस की जा रही थी। अब गरीब और जरूरतमंद लोगों के लिए राष्ट्रीय कैंसर संस्थान एक वरदान साबित होगा।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You