नौकरी का झांसा देकर कराती थीं जिस्मफरोशी का धंधा

  • नौकरी का झांसा देकर कराती थीं जिस्मफरोशी का धंधा
You Are HereNational
Saturday, December 28, 2013-1:24 PM

नई दिल्ली: उजबेकिस्तान की दो महिलाएं भारत में नौकरी दिलाने का झांसा देकर विदेशी युवतियों से जिस्मफरोशी का धंधा करवा रही थीं। वीरवार को ग्रेटर कैलाश-एक (जीके) थाना पुलिस ने दोनों महिलाओं को एयरपोर्ट से गिरफ्तार कर लिया।

दक्षिण-पूर्व जिला पुलिस अधिकारियों के अनुसार, उजबेकिस्तान की 28 वर्षीय शाहनुजा और 23 वर्षीय नजाकत ग्रेटर कैलाश के डी-ब्लॉक में किराए के फ्लैट में काफी समय से रह रही थीं। शाहनुजा का वीजा खत्म हो चुका है। इन युवतियों पर जबरन वेश्यावृत्ति कराने, मारपीट और बंधक बनाने का आरोप है।

आरोप के अनुसार, इन युवतियों ने उजबेकिस्तान की दो लड़कियों को ई-मेल के द्वारा 200 से 500 डॉलर में मार्केटिंग की जॉब दिलवाने के बहाने दिल्ली बुलाया। दोनों लड़कियों ने पासपोर्ट और वीजा न होने की बात कही।

आरोपी महिलाओं ने उन्हें बिना पासपोर्ट के नेपाल के रास्ते भारत में बुला लिया। आरोपी महिलाओं ने इन्हें साथ रखा और नौकरी तलाशने की बात कही। इसके बाद उन्हें जिस्मफरोशी के लिए मजबूर किया जाने लगा। दोनों युवतियों के मना करने पर उनके साथ मारपीट की जाने लगी। एक युवती को ग्राहक को पास भी भेजा गया।

9 दिसंबर को दोनों युवतियां किसी तरह फ्लैट से भागकर उजबेकिस्तान एंबेसी पहुंच गईं। ग्रेटर कैलाश थाना पुलिस ने 11 दिसंबर को एंबेसी के हस्तक्षेप के बाद आरोपी महिलाओं के खिलाफ मामला दर्ज किया था।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You