हारून यूसुफ बने विधायक दल के नेता

  • हारून यूसुफ बने विधायक दल के नेता
You Are HereNational
Friday, January 03, 2014-11:57 PM

नई दिल्ली: दिल्ली विधानसभा के चुनाव में कांग्रेस के विधायक 43 से घटकर 8 पर आकर एक तरीके से अर्श से गिरकर फर्श तक पहुंच गए हैं, लेकिन आज भी खुद को सत्ताधारी ही मान कर चल रहे हैं।

शुक्रवार को दिल्ली के पूर्व खाद्य एवं आपूर्ति मंत्री व विधायक हारून यूसुफ को कांग्रेस विधायक दल का नेता बनाया गया जबकि विधायक जयकिशन को उपनेता बनाया गया है। कल तक यही कहा जा रहा था कि कांग्रेस विधायक दल का नेता पार्टी हाईकमान सोनिया गांधी द्वारा तय किया जाएगा।

दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष व विधायक अरविंदर सिंह लवली ने वीरवार को कहा था कि विधानसभा अध्यक्ष पद के होने वाले चुनाव के लिए पार्टी के स्टैंड का फैसला पार्टी के विधायकों की बैठक में लिया जाएगा। लेकिन कांग्रेस के विधायकों की देर रात तक कोई बैठक नहीं हुई।

 शुक्रवार को अचानक यह जानकारी दी गई, कि हारून यूसुफ को विधायक दल का नेता और विधायक जयकिशन को उपनेता बनाया गया है। इसके अलावा विधायक देवेन्द्र यादव को दल का मुख्य सचेतक बनाया गया है। पार्टी के कार्यकर्ताओं का कहना है कि यह बात उनकी समझ से बाहर है कि आखिर विधायक दल का नेता बनाने में इतना समय क्यों बर्बाद किया गया।

हारून 1993 से लगातार बल्लीमारान क्षेत्र से चुनाव जीत रहे हैं। लेकिन कांग्रेस दिल्ली में रहने वाले अनुसूचित जाति और जनजाति के लोगों की लगातार उपेक्षा करती दिखाई दे रही है। कांग्रेस इस चुनाव में एकमात्र सुरक्षित सीट पर ही जीत सकी है। शायद इसी बात को ध्यान में रखते हुए दलित नेता व विधायक जयकिशन को विधायक दल का उपनेता बनाया गया है। वह भी 1993 से लगातार चुनाव जीत रहे हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You