मेरे खिलाफ आरोप झूठे और निराधार: देवयानी खोबरागड़े

  • मेरे खिलाफ आरोप झूठे और निराधार: देवयानी खोबरागड़े
You Are HereNational
Friday, January 10, 2014-11:53 AM

न्यूयॉर्क: भारतीय राजनयिक देवयानी खोबरागड़े ने आज कहा कि अमेरिकी अदालत में उनके खिलाफ लगाए गए आरोप ‘‘झूठे और निराधार’’ हैं तथा मामले में उनके और भारत सरकार द्वारा अपनाए गए रूख की ‘‘पुष्टि’’ हो जाएगी। देवयानी ने भारत रवाना होने के समय विमान में सवार होते हुए पीटीआई से कहा, ‘‘मेरे खिलाफ आरोप झूठे और निराधार हैं और मैं उम्मीद करती हूं कि वे गलत साबित होंगे।’’ देवयानी (39) ने कहा कि वह यह सुनिश्चित करने का पूरा प्रयास करेंगी कि इस घटना का कोई स्थाई असर उनके परिवार , खासकर बच्चों पर नहीं पड़े, जो अब भी अमेरिका में रह रहे हैं।

अमेरिका की एक ग्रैंड ज्यूरी ने वीजा फर्जीवाड़े और कथित झूठे बयान देने केे मामले में देवयानी पर आज अभियोग लगाया। ज्यूरी ने कहा कि पूर्ण राजनयिक छूट प्राप्त होने के बाद देवयानी के भारत जाने के बावजूद उनके खिलाफ आरोप कायम रहेंगे। अमेरिकी अटॉर्नी प्रीत भरारा ने कहा कि यदि वह राजनयिक छूट के बिना अमेरिका लौटती हैं तो उन्हें मुकदमे का सामना करना पड़ेगा। वर्ष 1999 बैच की आईएफएस अधिकारी देवयानी को अपनी नौकरानी के वीजा आवेदन में गलत घोषणाएं करने के आरोप में 12 दिसंबर को गिरफ्तार किया गया था । उन्हें 250,000 डॉलर के मुचलके पर रिहा किया गया था।

 गिरफ्तारी के बाद कपड़े उतरवाकर उनकी तलाशी ली गई थी और उन्हें अपराधियों के साथ बंद रखा गया था । इससे दोनों देशों के बीच तनाव पैदा हो गया था और जवाबी कार्रवाई में भारत ने खास श्रेणी के अमेरिकी राजनयिकों के विशेषाधिकारों में कटौती कर दी थी।  देवयानी ने कहा, ‘‘मैं अपने मंत्री, विदेश मंत्रालय में अपने सहकर्मियों तथा अन्य मंत्रालयों और विभागों, अपने पूरे राजनीतिक नेतृत्व, अपने मीडिया और अपने देश के स्त्री पुरूषों का धन्यवाद अदा करना चाहती हूं जो इस भयावह स्थिति में मेरे साथ खड़े रहे । हमारी सरकार और मेरे रूख की पुष्टि होगी । ’’



 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You