दिल्ली पुलिस के गले की फांस बना केजरीवाल का धरना

  • दिल्ली पुलिस के गले की फांस बना केजरीवाल का धरना
You Are HereNational
Tuesday, January 21, 2014-2:03 AM

नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस के 16 उपायुक्तों सहित करीब 2,000 कर्मियों को धरने पर बैठे दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए काफी मुश्किल घड़ी का सामना करना पड़ रहा है। केजरीवाल के धरनास्थल की सुरक्षा सुनिश्चित करने का इन कर्मियों का काम आज सुबह 6 बजे शुरू हुआ। मुख्यमंत्री ने क्षेत्र में निषेधाज्ञा लागू होने के बाद धरना देने का फैसला किया।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा, ऑफिस जाने वालों के लिए यातायात को सुचारू रखना और गणतंत्र दिवस परेड अभ्यास के लिए सुरक्षित रास्ता भी एजेंडे में था क्योंकि आज सप्ताह का पहला दिन था। धरनास्थल पर मुख्यमंत्री की सुरक्षा कर रहे 2,000 पुलिसकर्मियों में 16 पुलिस उपायुक्त, 34 सहायक पुलिस आयुक्त और 50 से अधिक निरीक्षक शामिल हैं। क्योंकि कुछ अन्य प्रदर्शनकारियों ने दोपहर बाद केजरीवाल के पास जाना चाहा, इसलिए क्षेत्र को पूरी तरह सील कर दिया गया, ताकि स्थिति नियंत्रण से बाहर न जा पाए।

अधिकारी ने कहा कि कुछ लोगों ने कश्मीर पर आप नेता प्रशांत भूषण की टिप्पणी के विरोध में जवाबी आंदोलन करना चाहा, लेकिन इससे तनाव बढ़ सकता था। इससे सुबह से भूखे पुलिसकर्मियों की सिरदर्दी और बढ़ गई। इन कर्मियों की जगह सिर्फ रात के लिए दूसरे कर्मी तैनात किए जाएंगे और इन्हें सुबह 6 बजे फिर ड्यूटी पर लौटना होगा।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You