मोदी के गढ़ से राहुल बोले, कोई 'चाय' बनाता है तो कोई 'उल्लू'

  • मोदी के गढ़ से राहुल बोले, कोई 'चाय' बनाता है तो कोई 'उल्लू'
You Are HereNational
Saturday, February 08, 2014-5:21 PM

बारदोली: कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने आज भले ही चाय बनाने वालों सहित सभी पेशे के लोगों का सम्मान करने की बात कही लेकिन साथ ही यह भी कह डाला कि ‘‘उल्लू बनाने वाले का सम्मान नहीं किया जा सकता।’’  कांग्रेस उपाध्यक्ष ने एक रैली को यहां संबोधित करते हुए कहा, ‘‘विभिन्न पेशे में लगे लोगों का सम्मान किया जाना चाहिए। कुछ लोग चाय बनाते हैं, कुछ टैक्सी चलाते हैं, कुछ खेती करते हैं। हमें उन सभी का सम्मान करना चाहिए।’’उन्होंने कहा, ‘‘हमें चाय वालों, मजदूरों और किसानों का सम्मान करना चाहिए। लेकिन जो दूसरों को उल्लू बनाते हैं, उनका सम्मान नहीं किया जाना चाहिए।’’

उनकी यह टिप्पणी कांगे्रस नेता मणिशंकर अय्यर द्वारा मोदी के खिलाफ उनकी पृष्ठभूमि को लेकर की गयी तीखी टिप्पणी से उत्पन्न विवाद को कमतर करने के उद्देश्य से की गयी थी।अय्यर ने पिछले माह यहां अखिल भारतीय कांगे्रस समिति के सत्र में भाग लेते हुए कहा कि मोदी कभी प्रधानमंत्री नहीं बनेंगे लेकिन यदि वह यहां :एआईसीसी स्थल: चाय बांटना चाहते हैं तो हम उनके लिए जगह ढूंढ देंगे।

कांग्रेस नेता ने मोदी पर यह तीखी टिप्पणी इसलिए की थी क्योंकि भाजपा के प्रधानमंत्री पद के प्रत्याशी चुनाव प्रचार के दौरान चाय बेचने की अपनी पृष्ठभूमि का प्राय: उल्लेख करते थे।  भाजपा ने इसे चाय बेचने वालों का अपमान बताया था और उसके बाद से वह इसे भुनाने की कोशिश कर रही है। पार्टी ने इस सिलसिले में चाय पर चर्चा शुरू की है।  राहुल की यह टिप्पणी इसलिए भी महत्व रखती है क्योंकि दो दिन पहले ही उन्होंने कांगे्रस प्रवक्ता से किसी भी राजनीतिक नेता पर निजी हमला करने से परहेज करने को कहा है।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You