देश के लिए खून बहाने वालों के लिए सरकार ने फर्ज निभाया: राहुल

  • देश के लिए खून बहाने वालों के लिए सरकार ने फर्ज निभाया: राहुल
You Are HereNational
Monday, February 17, 2014-5:36 PM

नई दिल्ली: अंतरिम बजट में सैनिकों की ‘एक रैंक, एक पेंशन’ की मांग पूरी किए जाने पर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने आज कहा कि देश के लिए सरहदों पर तैनात रहने वालों और अपना खून बहाने वालों का साथ देना सबका फर्ज बनता है।

उनके अनुरोध पर ‘एक रैंक, एक पेंशन’ की मांग पूरी करने पर सरकार और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी का आभार जताते हुए राहुल ने संवाददाताओं से कहा कि सरकार का यह फैसला ऐतिहासिक है। उन्होंने कहा, ‘‘फौज के लोग हिंदुस्तान के लिए खड़े रहते हैं और पहाड़ों पर भी खड़े हैं। हमारा फर्ज बनता है उनकी पूरी मदद करना।’’

उल्लेखनीय है कि राहुल गांधी ने पिछले सप्ताह ही पूर्व सैनिकों के प्रतिनिधिमंडल के साथ मुलाकात के दौरान उनकी बहुप्रतीक्षित ‘एक रैंक, एक पेंशन’ की मांग का समर्थन किया था। उन्होंने कहा था, ‘‘मैं आपके साथ खड़ा हूं। आप देश के लिए जान कुर्बान करते हैं और मेरा पूरा प्रयास होगा कि आपकी मांगों को पूरा किया जाए।’’

मांग पूरा किए जाने के बाद राहुल ने कहा कि सैनिकों को लगना चाहिए कि सरकार उनका पूरा समर्थन करती है। उन्होंने कहा, ‘‘हम सैनिकों के आभारी हैं जो देश के लिए अपना खून पसीना बहाते हैं।’’  सरकार ने इस मांग को 2014 में लागू करने की घोषणा की है। वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने 2014-15 का अंतरिम बजट पेश करते हुए संसद में बताया कि वह रक्षा पेंशन कोष में 500 करोड़ रुपये दे रहे हैं।

सैनिकों की यह मांग पूरी होने से देश में करीब 30 लाख पूर्व सैनिकों के परिवारों को लाभ मिलेगा। सैन्य बलों से हर साल करीब 40 हजार लोग अवकाश ग्रहण करते हैं और वे लंबे अर्से से रैंक के हिसाब से पेंशन को बराबर करने की मांग कर रहे थे।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You