मिट्टी में मिल जाना कबूल लेकिन भाजपा से फिर दोस्ती नही: नीतीश

  • मिट्टी में मिल जाना कबूल लेकिन भाजपा से फिर दोस्ती नही: नीतीश
You Are HereNational
Wednesday, February 19, 2014-9:35 AM

पटना: बिहार के मुख्यमंत्री और जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के वरिष्ठ नेता नीतीश कुमार ने आज साफ और कड़े शब्दों में कहा कि मिट्टी में मिल जाना कबूल है लेकिन वह फिर भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) से दोस्ती नही करेंगे। कुमार ने यहां विधानसभा में कहा कि भाजपा के साथ उनकी पार्टी के गठबंधन का अध्याय समाप्त हो गया है। अब चाहे जो भी हो जाए, मिट्टी में मिल जायेंगे लेकिन भाजपा के साथ फिर कभी नहीं जाएंगे।

उन्होंने कहा कि भाजपा से संबंध तोडऩे का फैसला अंतिम है और इस पर कोई पुनॢवचार नही होने वाला है। मुख्यमंत्री ने भाजपा को चुनौती देते हुए कहा कि वह चाहे तो अभी उनकी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाए। इस पर प्रतिपक्ष के नेता नंद किशोर यादव ने कहा कि उन्हें मालूम है कि उनकी सरकार कांग्रेस और राष्ट्रीय जनता दल(राजद) के विधायकों के बल पर टिकी हुई है। इस पर कुमार ने कहा कि वह ‘जुगाड़ टेक्नोलॉजी’ में माहिर नही है और यदि माहिर होते तो वर्ष 2000 में अपनी सरकार को बचा लेते।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You