सिंधुरत्न हादसा मामले में एक सनसनीखेज खुलासा

  • सिंधुरत्न हादसा मामले में एक सनसनीखेज खुलासा
You Are HereNational
Monday, March 03, 2014-1:27 PM

मुंबई: आईएनएस सिंधुरत्न हादसे की जांच में एक और खुलासा हुआ है। इस हादसे में महज 96 घंटे पहले लेफ्टिनेंट मनोरंजन कुमार ने वेस्टर्न कमांड के कुछ अफसरों से कहा था कि सिंधुरत्न और इसकी सहयोगी पनडुब्बियों को ऑपरेट करना 'बम पर तैरने जैसा है'। इन्हीं अफसरों में से एक ने इस बात खुलासा किया है।

22 फरवरी को नेवल ऑफिसर्स मेस में ले. मनोरंजन की इस अफसर से आखिरी बार बात हुई थी। अफसर ने मनोरंजन से हुई बातचीत का ब्यौरा ई-मेल के जरिये अपने साथियों से साझा की है। इसके मुताबिक ले. मनोरंजन यह जानते हुए भी कि पनडुब्बी को ऑपरेट करना खतरे से खाली नहीं है, फिर भी वह अपनी ड्यूटी पर गए। क्योंकि उनके पास कोई और रास्ता नहीं था।

इस अफसर ने मनोरंजन के हवाले से 'हेडलाइंस टुडे' को बताया, 'सर, हम बम पर तैरते हैं। इन पनडुब्बियों की बैटरी इतनी पुरानी हो चुकी हैं कि दस गुना मेहनत के बाद भी इनसे दस गुना गैस निकलता है। हाइड्रोजन बर्नर भी काम नहीं कर रहे हैं।' जब इस अफसर ने ले. मनोरंजन से पूछा कि उसने इस मसले को कमांड के सामने क्यों नहीं उठाया तो मनोरंजन का जवाब था, 'सर, यह सभी को पता है। कमांडरों की कॉन्फ्रेंस में भी यह मुद्दा उठा था।'

गौरतलब है कि नेवी की पनडुब्बी आईएनएस सिंधुरत्न मुंबई के पास समुद्र के पास 26 फरवरी को हादसे में मनोरंजन के साथ लेफ्टिनेंट कमांडर कपीश मुवाल शहीद हो गए थे।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You