PAK में सरेअाम रैलियां करते हैं हाफिज सईद जैसे आतंकीः भारत

  • PAK में सरेअाम रैलियां करते हैं हाफिज सईद जैसे आतंकीः भारत
You Are HereNational
Tuesday, September 20, 2016-9:57 AM

जिनिवाः उरी हमले में 20 जवानाें के शहीद हाेने के बाद भारत ने संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद के 33वें सत्र में दिए अपने बयान में परिषद का आह्वान किया कि वह पाकिस्तान से कहे कि वह सीमापार घुसपैठ पर रोक लगाए, आतंकवाद के ढांचे को नष्ट करे और आतंकवाद के केंद्र के तौर पर काम करना बंद करे। भारत ने कहा कि समय आ गया है कि भारत की धरती पर यह जघन्य हिंसा जारी रखने वालों को पाकिस्तान की ओर से दिए जाने वाले समर्थन पर यह परिषद ध्यान दे।

बलूचिस्तान में उत्पीड़न 
इसके साथ ही पाकिस्तान पर बड़ा हमला करते हुए भारत ने कहा कि हाफिज सईद और सैयद सलाउद्दीन जैसे घोषित आतंकी पाकिस्तान के प्रमुख शहरों में सरेअाम बड़ी-बड़ी रैलियां करते हैं, जिससे वहां के हालात का पता चलता है। भारत ने पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर और बलूचिस्तान सहित पाकिस्तान के अन्य हिस्सों में उत्पीड़न एवं मानवाधिकार के खुलेआम उल्लंघन का मुद्दा एक बार फिर उठाते हुए कहा कि इसका पूरे क्षेत्र की स्थिरता पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ रहा है। 

कश्मीर हालत के पीछे पाक
भारत ने जोर देकर कहा कि कश्मीर में गड़बड़ी का मूल कारण पाकिस्तान की ओर से प्रोत्साहित सीमापार आतंकवाद है जो कि इतना निष्ठुर है कि वह नागरिकों और यहां तक कि बच्चों को हिंसक भीड़ के आगे खड़ा करके खतरे में डालकर उनका इस्तेमाल करने से संकोच नहीं करता। हम इस परिषद से आग्रह करते हैं कि वह इस खतरे पर समग्र दृष्टिकोण अपनाए और आतंकवाद का इस्तेमाल मानवाधिकार का बहाना बनाकर देश की नीति के तौर पर नहीं करने दे।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You